scorecardresearch
 

ज्ञानवापी मस्जिद केसः 'हमारा दावा और मजबूत हुआ...', दूसरे दिन सर्वे के बाद बोला हिंदू पक्ष

Gyanvapi Masjid Survey 2nd Day: वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद में लगातार दूसरे दिन सर्वे हुआ. दूसरे दिन सर्वे के बाद हिंदू पक्ष की ओर से कहा गया है कि हमारा दावा और मजबूत हुआ है.

X
सर्वे के बाद वकील बोले- 80 फीसदी सर्वे पूरा (फाइल फोटोः पीटीआई) सर्वे के बाद वकील बोले- 80 फीसदी सर्वे पूरा (फाइल फोटोः पीटीआई)
4:25
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 16 मई को भी होगा ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे
  • वकील बोले- सर्वे 80 फीसदी हुआ पूरा

Gyanvapi Masjid Survey 2nd Day: ज्ञानवापी मस्जिद में लगातार दूसरे दिन सर्वे हुआ. सर्वे में क्या मिला, ये जानने की जिज्ञासा हर किसी को है. कोर्ट की ओर से गोपनीयता को लेकर सख्त हिदायत की वजह से कोई भी पक्ष इसे लेकर सीधे कुछ बताने से बचने की कोशिश कर रहा है लेकिन हिंदू पक्ष ने ये दावा जरूर किया है कि सर्वे में जो मिल रहा है, वो उनके पक्ष में है.

दूसरे दिन सर्वे के बाद हिंदू पक्ष के वकील हरिशंकर जैन ने कहा है कि सर्वे के बाद हमारा दावा और मजबूत हुआ है. उन्होंने ये भी बताया कि सर्वे अभी पूरा खत्म नहीं हुआ है. हरिशंकर जैन ने कहा है कि सर्वे 16 मई को भी जारी रहेगा. सर्वे के दौरान ज्ञानवापी मस्जिद के अंदर रहे अन्य वकीलों ने भी कहा है कि अभी करीब 80 फीसदी सर्वे ही पूरा हुआ है.

ये भी पढ़ें- माता श्रृंगार गौरी और उनकी पूजा का क्या है महत्व, कैसे शुरू हुआ काशी में विवाद?

वकीलों के मुताबिक करीब 20 फीसदी सर्वे अभी बचा हुआ है जिसे पूरा करने के लिए 16 मई के दिन भी टीम पहुंचेगी. कोर्ट की ओर से नियुक्त एडवोकेट कमिश्नर और उनके सहायकों के साथ वादी और प्रतिवादी पक्ष के लोग, वकील 16 मई को भी सर्वे के लिए ज्ञानवापी मस्जिद पहुंचेंगे.

ये भी पढ़ें- 'कल्पना से बहुत कुछ ज्यादा है..', ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे के बाद बोले हिंदू पक्ष के बिसेन

सर्वे के बाद बाहर निकले वकीलों ने ये कहा कि कोर्ट और प्रशासन का सख्त निर्देश है कि क्या मिला, इसे लेकर किसी भी तरह का कोई बयान नहीं देना है. वकीलों का साफ कहना था कि जब रिपोर्ट न्यायालय में दाखिल हो जाएगी, तब ये सबके सामने आ जाएगा कि क्या मिला. हिंदू पक्ष के वकील ने कहा कि हर अधिवक्ता चाहता है कि रिपोर्ट उसके अनुरूप हो. वकील ने कहा कि अब ये किसके अनुरूप है, इसका निर्णय कोर्ट करेगा.

मुस्लिम पक्ष के वकील ने क्या कहा

हिंदू पक्ष की ओर से किए जा रहे दावे पर मुस्लिम पक्ष के वकील ने कुछ भी कहने से मना कर दिया. उन्होंने सर्वे पर संतोष जताया और कहा कि हिंदू पक्ष क्या कह रहा है, हमें उससे कोई मतलब नहीं है. वहीं, विश्व वैदिन सनातन संघ के प्रमुख जितेंद्र सिंह बिसेन ने कहा कि न्यायालय के निर्देश के अनुरूप सर्वे चल रहा है. दोनों पक्ष अपनी-अपनी बात रख रहे हैं.

हर दिन सर्वे के लिए नया मेमोरी कार्ड

सर्वे के बाद बाहर निकले लगभग हर अधिवक्ता ने यही कहा कि कमीशन का काम शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा है. किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं आ रही है. वकीलों के मुताबिक सर्वे से दोनों ही पक्ष संतुष्ट हैं. वकीलों ने ये भी कहा कि सर्वे के लिए वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी के बाद मेमोरी कार्ड वहीं जमा करा दिया जाता है. हर रोज नया मेमोरी कार्ड लिया जाता है.

ये भी पढ़ें- ज्ञानवापी मस्जिद के तहखानों मिले कलश-स्वस्तिक-मंदिरों के खंभे! 4 कमरों का सर्वे पूरा

तीसरे दिन सर्वे की टाइमिंग को लेकर वकीलों ने कहा कि जो समय कोर्ट ने निर्धारित किया है, सर्वे का कार्य उसी के अंदर किया जाएगा. कुछ वकीलों ने सुबह 8 बजे से 12 बजे तक सर्वे किए जाने की बात कही, वहीं कुछ वकीलों ने कहा कि करीब डेढ़ से दो घंटे का सर्वे और बचा हुआ है. हरिशंकर जैन ने कहा कि 10 से 12 बजे तक सर्वे किया जाएगा.

निर्धारित से ज्यादा वक्त क्यों लगा?

ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे के लिए 8 बजे से 12 बजे तक का समय निर्धारित किया गया था. सर्वे करने पहुंची टीम 1.30 बजे तक बाहर नहीं निकली थी. निर्धारित से अधिक वक्त क्यों लगा, इसे लेकर यूपी सरकार के वकील अरुण कुमार त्रिपाठी ने कहा कि सर्वे तय वक्त में ही पूरा कर लिया गया था. कागजी प्रक्रिया में थोड़ा समय लगा.

निर्धारित समय से डेढ़ घंटे बाद निकली टीम

ज्ञानवापी मस्जिद का सर्वे करने गई टीम सर्वे के लिए निर्धारित 8 से 12 बजे के निर्धारित समय से करीब डेढ़ घंटे देरी से बाहर आई. सर्वे टीम के बाहर आने में जितना अधिक वक्त लग रहा था, बाहर अटकलें लगाई जा रही थीं कि टीम शायद आज ही सर्वे पूरा कर लेना चाहती है. इसी की वजह से देरी हो रही है. जब टीम निकली, तब ये साफ हुआ कि सर्वे पूरा नहीं हुआ है और ये लगातार तीसरे दिन भी जारी रहेगा.

ज्ञानवापी में कहां-कहां हुआ सर्वे?

ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे के दूसरे दिन गुंबदों और दीवारों का सर्वे किया गया. सर्वे करने पहुंची टीम ने ज्ञानवापी मस्जिद की पश्चिमी दीवार का सर्वे किया और साथ ही मस्जिद परिसर में स्थित कमरों का भी सर्वे किया गया. इस दौरान सर्वे टीम को एक नए कमरे के संबंध में भी जानकारी मिली जिसमें मलबा भरा हुआ है.

पहले दिन हुआ था तहखाने का सर्वे

ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे के पहले दिन 14 मई को तहखाने का सर्वे किया गया था. सर्वे करने पहुंची टीम ने पश्चिमी दीवार का भी सर्वे किया था. गौरतलब है कि श्रृंगार गौरी केस में सिविल जज सीनियर डिवीजन रवि कुमार दिवाकर की कोर्ट ने ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे का आदेश दिया था.

6 मई को शुरू हुआ था सर्वे

बता दें कि कोर्ट के आदेश पर 6 मई को सर्वे शुरू हुआ था. 6 मई को सर्वे के पहले दिन श्रृंगार गौरी का सर्वे हुआ. इसके बाद जब सर्वे टीम ज्ञानवापी मस्जिद में जाने लगी, तब हंगामा हो गया था. मुस्लिम पक्ष ने कोर्ट में याचिका दायर कर एडवोकेट कमिश्नर बदलने की मांग की थी. कोर्ट ने अजय मिश्रा को ही एडवोकेट कमिश्नर बनाए रखा लेकिन उनके साथ दो सहायक लगा दिए. कोर्ट के इस फैसले के बाद 14 मई को सर्वे हुआ था. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें