scorecardresearch
 

आतंकियों की घुसपैठ के लिए पाकिस्तान ले रहा है सुरंग का सहारा

जम्मू कश्मीर के सांबा में भारत और पाकिस्तान के बीच अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बीएसएफ ने एक सुरंग का पता लगाया है. सांबा के रामगढ़ सेक्टर में 20 मीटर लंबी और ढाई फीट चौड़ी यह सुरंग इंटरनेशनल बॉर्डर के फेन्स के पास मिली है.

पाकिस्तानी रेंजर्स की मिलीभगत की आशंका पाकिस्तानी रेंजर्स की मिलीभगत की आशंका

जम्मू कश्मीर के सांबा में भारत और पाकिस्तान के बीच अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बीएसएफ ने एक सुरंग का पता लगाया है. सांबा के रामगढ़ सेक्टर में 20 मीटर लंबी और ढाई फीट चौड़ी यह सुरंग इंटरनेशनल बॉर्डर के फेन्स के पास मिली है.

पाकिस्तानी रेंजर्स की मिलीभगत
प्राप्त जानकारी के मुताबिक, यह सुरंग कुछ ही दिनों पहले तैयार हुई मालूम होती है. बीएसएफ की विजिलेंस टीम ने इलाके की निगरानी के दौरान इस सुरंग को ढूंढ़ निकाला. सूत्रों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि पाकिस्तानी रेंजर्स आतंकियों की घुसपैठ के लिए ऐसी सुरंग बनाने में आतंकियों की मदद कर रहे हैं.


सर्जिकल स्ट्राइक से बौखलाए आतंकी
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, पाक रेंजर्स की मदद से इस तरीके की टनल बनाने की आशंका लगातार जताई जा रही थी. खुफिया रिपोर्ट इस ओर भी इशारा कर रही हैं कि आतंकी सीमा के उस पार अलग-अलग लॉन्चिंग पैड पर बैठे हुए हैं. इसके अलावा आतंकी सीमा के उस पार के गांव में भी शरण लेकर वहां से सीमा के अंदर यानी भारतीय सीमा में घुसपैठ की फिराक में है.

दरअसल सर्जिकल स्ट्राइक के बाद जिस तरीके से आतंकियों की घुसपैठ और आतंकियों के लॉन्चिंग पैड को भारतीय सेना ने तबाह किया था, उसके बाद आतंकी लगातार बौखलाए हुए हैं. इससे पहले भी जम्मू में कई बार अल- अलग सेक्टर में आतंकियों की घुसपैठ के लिए बनाई टनल मिल चुकी है. सूत्र बताते हैं कि जो टनल कुछ दिन पहले सांबा सेक्टर में मिली थी, वह चूहे के बिल जैसी थी. इसका निर्माण उस तरह किया गया था, जैसे चूहा अपना बिल खोदता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें