scorecardresearch
 

जयपुर हुआ पानी-पानी, मूसलाधार बारिश ने ली एक की जान

बारिश के लिए तरसते जयपुर में पिछले दो दिनों से लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. शहर के नदी-नाले उफान पर हैं. सड़कों पर पानी भरा हुआ है. अस्पताल के अंदर भी पानी भरा हुआ है जिसके चलते लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है .जयपुर पिछले 2 दिनों में 6 इंच से ज्यादा बारिश हो चुकी है.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

बारिश के लिए तरसते जयपुर में पिछले दो दिनों से लगातार हो रही मूसलाधार बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. शहर के नदी-नाले उफान पर हैं. सड़कों पर पानी भरा हुआ है. अस्पताल के अंदर भी पानी भरा हुआ है जिसके चलते लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. जयपुर में पिछले 2 दिनों में 6 इंच से ज्यादा बारिश हो चुकी है.

जयपुर शहर में सड़कों पर घुटनों तक पानी भर चुका है जिसकी वजह से लोगों को आने-जाने में काफी परेशानी हो रही है. गाड़ियां पानी में डूब चुकी हैं और अंडरपास में पानी भर जाने से कई वाहन फंसे हुए हैं. सबसे बुरा हाल तो प्रदेश के सबसे बड़े अस्पताल सवाई मानसिंह अस्पताल का है जहां पर पानी भर जाने से मुफ्त दवा की दुकानें बंद कर दी गई हैं. लोग पानी के अंदर घुसकर अस्पताल जाने को मजबूर हैं. 

बता दें कि जयपुर शहर के विद्याधर नगर में भारी बारिश के चलते एक मकान ढह गया. इस हादसे में मलबे के अंदर दबने से एक व्यक्ति की मौत हो गई. वहीं, टोंक जिले के दातासर में पानी घुस जाने से पूरा गांव पानी में डूब गया, यहां तो खाने-पीने की चीज़ें भी पानी में पूरी तरह डूब गईं.  

रिपोर्ट्स के मुताबिक, लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए एसडीआरएफ की टीम को रवाना कर दिया गया है. सीकर जिले के जीण माता में भारी बारिश की वजह से बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं, जहां पर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है. यहां पर कल से ही एसडीआरएफ की टीम तैनात कर दी गई है. सीकर में पिछले 2 दिनों में 10 इंच से ज्यादा बारिश हो चुकी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें