scorecardresearch
 

National Herald Case: 'खड़गे आए, चले गए...', और फिर ED ने सील कर दिया यंग इंडिया का दफ्तर

यंग इंडियन का दफ्तर सील हो गया है. इस सबके बीच कुछ कंफ्यूजन भी सामने आई है. ईडी का कहना है कि उनकी टीम वहां सिर्फ छानबीन करने पहुंची थी. फिर छानबीन में सहयोग ना मिलने पर दफ्तर सील किया गया. दूसरी तरफ कांग्रेस नेता इन आरोपों को नकार रहे हैं.

X
मल्लिकार्जुन खड़गे पर सर्च ऑपरेशन में सहयोग नहीं करने का आरोप मल्लिकार्जुन खड़गे पर सर्च ऑपरेशन में सहयोग नहीं करने का आरोप
34:13

हेराल्ड बिल्डिंग में मौजूद यंग इंडियन का दफ्तर सील होने पर कांग्रेस और ईडी आमने-सामने हैं. ईडी का कहना है कि वह दफ्तर में छानबीन करना चाहते थे, लेकिन कांग्रेस की तरफ से सहयोग ना मिलने पर दफ्तर को सील करना पड़ा. दूसरी तरफ कांग्रेस नेता इन आरोपों को नकार रहे हैं.

आजतक से बातचीत में ईडी सूत्रों ने कहा था कि उन्होंने सिर्फ यंग इंडियन के ऑफिस को अस्थाई रूप से सील किया है. यह भी कहा गया कि ऑफिस सील इसलिए हुआ क्योंकि वहां छानबीन के वक्त कांग्रेस की तरफ से कोई मौजूद नहीं था.

ईडी सूत्रों ने कहा, 'प्रिंसिपल ऑफिसर खड़गे आए और छानबीन करवाए बिना परिसर छोड़कर चले गए. अब मल्लिकार्जुन खड़गे को समन किया गया है ताकि वह वहां छानबीन होने दें. जब अधिकृत शख्स के सामने छानबीन (सर्च) हो जाएगी तो सील को हटा लिया जाएगा.'

दूसरी तरफ मल्लिकार्जुन खड़गे ने ईडी सूत्रों की बातों को नकारा है. उन्होंने कहा कि ना तो ईडी ने उनसे सर्च करने के लिए इजाजत मांगी थी और ना ही उन्होंने ईडी को सर्च करने से रोका था.

राहुल-सोनिया गांधी से कई घंटों हुई थी पूछताछ

नेशनल हेराल्ड केस में पहले राहुल गांधी और फिर सोनिया गांधी से कई घंटों पूछताछ हुई थी. इसके बाद एक्शन में आते हुए आज ईडी ने दिल्ली में मौजूद हेराल्ड हाउस के अंदर स्थित यंग इंडियन के दफ्तर को सील कर दिया. इसके बाद कांग्रेस मुख्यालय के साथ-साथ सोनिया गांधी और राहुल गांधी के घर के बाहर पुलिस का पहरा बढ़ गया था. इसपर कांग्रेस नेताओं ने आपत्ति जताई थी.

बाद में कांग्रेस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके आरोप लगाया कि यह घेराबंदी इसलिए हुई है ताकि 5 अगस्त को कांग्रेस महंगाई के खिलाफ प्रदर्शन ना कर पाए. हालांकि, दिल्ली पुलिस के सूत्रों ने बताया कि स्पेशल ब्रांच के पास इनपुट थे कि ईडी की कार्रवाई के खिलाफ बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी कांग्रेस दफ्तर आदि के बाहर जुड़ सकते हैं. इसलिए सुरक्षा बढ़ाई गई थी.

फिलहाल कांग्रेस इस मुद्दे को और उठाएगी. कांग्रेस ने कल अपने सभी राज्यसभा और लोकसभा सांसदों के साथ मीटिंग बुलाई है. सुबह 9.45 पर इस मीटिंग में आगे की रणनीति तय होगी. संसद में भी कांग्रेस इस मुद्दे को उठाएगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें