scorecardresearch
 

Uddhav Thackeray का इस्तीफा, फडणवीस को खिलाई मिठाई, शिंदे के घर के सामने फोड़े पटाखे

उद्धव ठाकरे अब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद पर नहीं हैं. उन्होंने बुधवार रात सीएम पद से इस्तीफा दे दिया. इतना ही नहीं उन्होंने महाराष्ट्र विधान परिषद की सदस्यता भी छोड़ दी. फेसबुक लाइव कर उन्होंने कहा कि मैं सीएम पद से इस्तीफा दे रहा हूं, मेरे पास शिव सेना है और उसे मुझसे कोई नहीं छीन सकता.

X
सुप्रीम कोर्ट के फैसले और उद्धव के इस्तीफे के बाद देवेंद्र फडणवीस को मिठाई खिलाई गई. सुप्रीम कोर्ट के फैसले और उद्धव के इस्तीफे के बाद देवेंद्र फडणवीस को मिठाई खिलाई गई.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • फेसबुक लाइव पर उद्धव ठाकरे ने दिया इस्तीफा
  • उद्धव ठाकरे ने इस्तीफे से पहले अपनी सरकार की खूबियां गिनाईं

उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने सीएम पद के साथ-साथ महाराष्ट्र विधान परिषद की सदस्यता भी छोड़ दी है. बुधवार रात उन्होंने अपने फेसबुक लाइव के दौरान कहा कि मैं सीएम पद से इस्तीफा दे रहा हूं, मेरे पास शिव सेना है और उसे मुझसे कोई नहीं छीन सकता.

बुधवार को फ्लोर टेस्ट के मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. कोर्ट ने फ्लोर टेस्ट कराने का आदेश दिया. कोर्ट के फैसले और उद्धव के इस्तीफे के बाद एजेंसी पर देवेंद्र फडणवीस को मिठाई खिलाते नेताओं की तस्वीर सामने आई. वहीं, एकनाथ शिंदे के घर के बाहर पटाखे फोड़े गए. यहां मिठाइयां बांटी गईं.

गिर गई उद्धव सरकार, फ्लोर टेस्ट से पहले ही CM ठाकरे ने दिया इस्तीफा

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 30 जून यानी कल फ्लोर टेस्ट को लेकर बड़ा फैसला सुनाया था. लेकिन फ्लोर टेस्ट से पहले ही उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. फ्लोर टेस्ट से पहले उद्धव ने फेसबुक लाइव किया. उद्धव ने फेसबुक लाइव में कहा कि मुझे फ्लोर टेस्ट से कोई मतलब नहीं है. मैं CM पद छोड़ रहा हूं.

औरंगाबाद अब संभाजी नगर... उस्मानाबाद का भी नाम बदला, उद्धव का हिंदुत्व कार्ड

हादसा

उद्धव ठाकरे ने कहा कि हमारी सरकार ने लोगों के लिए काम किया. उद्धव ने कहा कि SC ने फ्लोर टेस्ट के लिए कहा है. मैं संतुष्ट हूं कि हमने आधिकारिक तौर पर औरंगाबाद का नाम संभाजी नगर और उस्मानाबाद का नाम धाराशिव कर दिया है. थोड़ी देर पहले कोर्ट ने साफ किया कि कल सुबह यानी 30 जून को 11 बजे फ्लोर टेस्ट होगा.

महाराष्ट्र में बदली बयार, गुवाहाटी से गोवा पहुंचे बागी विधायक

बता दें कि बुधवार को हुई कैबिनेट मीटिंग में कांग्रेस ने कुछ जगहों और प्रोजेक्ट्स के नाम बदलने की मांग की थी. कांग्रेस ने इस मीटिंग में पुणे का नाम राजमाता जिजाबाई के नाम पर जिजाऊ नगर रखने की मांग की थी. इसके अलावा कांग्रेस ने सेवरी न्हावा देवा ट्रांस हार्बर लिंक का नाम बदलकर बैरिस्टर एआर अंतुले रखने की मांग भी की थी.

एकनाथ शिंदे इनके बेटे सांसद डॉ. श्रीकांत शिंदे ने फ्लोर टेस्ट पर फैसला आने से पहले खुशी का इजहार किया था. उन्होंने कहा था कि कोर्ट न्यूट्रल निर्णय देंगे. जैसे कल पॉजिटिव रिएक्शन आया था. वैसे ही आज भी निर्णय आने की उम्मीद है. सभी लोग मुंबई मे आ रहे हैं तो उत्साह तो रहेगा ही.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें