scorecardresearch
 

'काली' के पोस्टर से शुरू हुआ विवाद अब सियासी बन गया है, बंगाल से UP-MP तक FIR, निशाने पर महुआ मोइत्रा

लीना मणिमेकलई ने डॉक्यूमेंट्री फिल्म काली का पोस्टर जारी किया था. इसमें काली को सिगरेट पीते और LGBTQ का झंडा लिए दिखाया गया था. इसका लगातार विरोध हो रहा है. लीना के खिलाफ दिल्ली और यूपी में केस दर्ज कराए गए हैं. उधर, टोरंटो में उस म्यूजियम ने माफी मांगी है, जिसमें इस पोस्टर को लॉन्च किया गया था. साथ ही फिल्म को भी लिस्ट से हटा दिया है.

X
महुआ मोइत्रा के खिलाफ भोपाल में एफआईआर महुआ मोइत्रा के खिलाफ भोपाल में एफआईआर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • महुआ मोइत्रा के काली पर दिए बयान पर मचा बवाल
  • महुआ मोइत्रा के खिलाफ भोपाल में मामला दर्ज

डॉक्यूमेंट्री फिल्म काली को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. यह मुद्दा बुधवार को भी पूरे देश में छाया रहा. जहां ट्विटर ने फिल्म काली की डायरेक्टर लीना मणिमेकलई के पोस्टर वाले विवादित ट्वीट को हटा दिया. वहीं, काली पर विवादित बयान देने पर टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. इतना ही नहीं पश्चिम बंगाल बीजेपी ने महुआ के खिलाफ कई जगहों पर शिकायत दर्ज कराई और गिरफ्तारी की मांग की. 

इस पूरे विवाद के पीछे लीना मणिमेकलई की फिल्म काली के पोस्टर को माना जा रहा है. दरअसल, लीना मणिमेकलई ने डॉक्यूमेंट्री फिल्म काली का पोस्टर जारी किया था. इसमें काली को सिगरेट पीते और LGBTQ का झंडा लिए दिखाया गया था. इसका लगातार विरोध हो रहा है. लीना के खिलाफ दिल्ली और यूपी में केस दर्ज कराए गए हैं. उधर, टोरंटो में उस म्यूजियम ने माफी मांगी है, जिसमें इस पोस्टर को लॉन्च किया गया था. साथ ही फिल्म को भी लिस्ट से हटा दिया है. 
 
महुआ मोइत्रा के बयान पर मचा बवाल

डॉक्यूमेंट्री काली के पोस्टर को लेकर टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा के बयान के बाद यह विवाद और बढ़ गया है. दरअसल, इंडिया टुडे के एक कार्यक्रम में जब महुआ मोइत्रा से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, काली के कई रूप हैं. मेरे लिए काली का मतलब मांस और शराब स्वीकार करने वाली देवी से है. 

महुआ मोइत्रा के इस बयान को लेकर उनकी काफी आलोचना हो रही है. उनकी गिरफ्तारी की भी मांग हो रही है. मध्यप्रदेश के भोपाल में महुआ के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है. उधर, बंगाल बीजेपी ने महुआ मोइत्रा की गिरफ्तारी की मांग की है. इस पर पलटवार करते हुए महुआ मोइत्रा ने बीजेपी को और केस दर्ज कराने की धमकी दी. उन्होंने कहा, वे बीजेपी के गुंडों से नहीं डरती. उन्होंने कहा, वे काली की पूजा करती हैं और किसी चीज से नहीं डरतीं. 

टीएमसी पार्टी ने बनाई दूरी

उधर, महुआ के बयान से उनकी पार्टी टीएमसी ने दूरी बना ली है और इस बयान की निंदा की है. कांग्रेस नेता शशि थरूर ने महुआ मोइत्रा का बचाव किया और लोगों से इसे धर्म पर छोड़ने के लिए कहा. उधर, बंगाल भाजपा ने महुआ मोइत्रा की गिरफ्तारी की मांग करते हुए कहा कि अगर पुलिस ने 10 दिनों में उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की तो वह कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगी. 

बीजेपी ने खोला मोर्चा

बंगाल में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने कहा कि महुआ मोइत्रा के खिलाफ राज्य में सैकड़ों केस दर्ज कराए गए हैं. उन्होंने कहा, टीएमसी सरकार और बंगाल पुलिस नूपुर शर्मा के खिलाफ कार्रवाई के लिए काफी एक्टिव थी. लेकिन महुआ मोइत्रा के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की. बीजेपी और टीएमसी नेताओं के लिए अलग-अलग नियम नहीं हो सकते. हम दस दिन इंतजार करेंगे और फिर कोर्ट जाएंगे. 

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुकांता मजूमदार ने कहा, सनातन हिंदू धर्म के अनुसार, देवी काली की कभी भी शराब और मांस का सेवन करने वाली देवी के रूप में पूजा नहीं की जाती. हिंदू सदियों से बुराई के खिलाफ शक्ति के प्रतीक के रूप में देवी काली की पूजा करते रहे हैं. महुआ मोइत्रा का बयान हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला है. हम उनकी गिरफ्तारी की मांग करते हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें