scorecardresearch
 

Hijab Row: कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष का आरोप - छात्रों ने तिरंगा हटाकर भगवा झंडा लहराया

Hijab Row: कर्नाटक में हिजाब पर बवाल के बीच अब तिरंगा बनाम भगवा झंडे की 'जंग' देखने को मिली है. इस बीच कांग्रेस ने शिक्षण संस्थानों को फिलहाल बंद करने की मांग की है.

X
कर्नाटक में तिरंगे की जगह पर भगवा झंडा लगाया गया
कर्नाटक में तिरंगे की जगह पर भगवा झंडा लगाया गया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कर्नाटक कांग्रेस की मांग - कॉलेजों को बंद करके पढ़ाई फिलहाल ऑनलाइन हो
  • कर्नाटक में कई स्कूल-कॉलेज में हिजाब को लेकर बवाल चल रहा है

Hijab Row: हिजाब विवाद पर कर्नाटक में स्थिति बिगड़ती जा रही है. वहां कथित रूप से एक शैक्षिक संस्थान में तिरंगे की जगह भगवा झंडा लगाया गया है. यह आरोप कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने लगाया है. इससे जुड़े कुछ वीडियोज भी सोशल मीडिया पर शेयर किए जा रहे हैं. शिवकुमार ने ऐसी घटनाओं से प्रभावित शैक्षिक संस्थाओं को एक हफ्ते के लिए बंद करने का सुझाव दिया है.

वायरल वीडियो कर्नाटक के शिमोगा का बताया जा रहा है. इसमें एक शख्स झंडे के पोल पर चढ़ा हुआ है. वहीं नीचे कई अन्य लोग खड़े हैं, जिनको छात्र बताया गया है. पोल पर भगवा झंडा लगने के बाद छात्र खुशी से चिल्लाते दिख रहे हैं.

डीके शिवकुमार ने ट्वीट कर दावा किया कि कर्नाटक के कुछ शिक्षण संस्थानों में हालात काबू से बाहर हो गए हैं. उन्होंने आगे लिखा कि एक जगह तिरंगा हटाकर भगवा झंडा लगाया गया. मुझे लगता है कि जहां हालात खराब हैं उन संस्थानों को कम से कम एक हफ्ते के लिए बंद कर देना चाहिए. इस दौरान ऑनलाइन पढ़ाई होनी चाहिए.

यह भी पढ़ें - कर्नाटक हिजाब विवाद पर सुनवाई LIVE: हाई कोर्ट की दो टूक- 'भावना से नहीं हम कानून से चलेंगे'

बता दें कि शिमोगा में सुबह पत्थरबाजी की घटना भी हुई थी, जिसके बाद वहां धारा 144 लागू कर दी गई है. इसके अलावा सरकार ने कॉलेजों को निर्देश दिया है कि जब भी उनको लगे कि उनके यहां भी माहौल खराब हो रहा है तो वे 2-3 दिन की छुट्टी की घोषणा कर सकते हैं.

Karnataka Hijab Row के बीच कुछ और वीडियोज भी सामने आए हैं. एक दूसरा वीडियो कर्नाटक के एक कॉलेज से सामने आया है, जिसमें कुछ लोग हिजाब पहने लड़की के सामने नारेबाजी कर रहे हैं और जय श्री राम के नारे लगे रहे हैं. वहीं लड़की 'अल्लाहू अकबर' कह रही है.

क्या है हिजाब विवाद

कर्नाटक में कई स्कूल-कॉलेज में हिजाब को लेकर बवाल चल रहा है. एक तरफ मुस्लिम छात्राएं स्कूल-कॉलेज में हिजाब पहन अपना विरोध दर्ज करवा रही हैं तो वहीं दूसरी तरफ कई छात्र भगवा स्कार्फ पहन अपना विरोध दर्ज करा रहे हैं. मामला हाई कोर्ट तक पहुंच गया है, जिसपर आज ही सुनवाई हो रही है.

हिजाब विवाद के बीच हाल हाल ही में कर्नाटक सरकार ने राज्य में Karnataka Education Act-1983 की धारा 133 लागू कर दी है. इस वजह से अब सभी स्कूल-कॉलेज में यूनिफॉर्म को अनिवार्य कर दिया गया है. इसके तहत सरकारी स्कूल और कॉलेज में तो तय यूनिफॉर्म पहनी ही जाएगी, प्राइवेट स्कूल भी अपनी खुद की एक यूनिफॉर्म चुन सकते हैं.

बता दें कि ये विवाद पिछले महीने जनवरी में तब शुरू हुआ था, जब उडुपी के एक सरकारी कॉलेज में 6 छात्राओं ने हिजाब पहनकर कॉलेज में एंट्री ली थी. विवाद इस बात को लेकर था कि कॉलेज प्रशासन ने छात्राओं को हिजाब पहनने के लिए मना किया था, लेकिन वे फिर भी पहनकर आ गई थीं. उस विवाद के बाद से ही दूसरे कॉलेजों में भी हिजाब को लेकर बवाल शुरू हो गया, जिसके चलते कई जगहों पर पढ़ाई प्रभावित हो रही है और मुद्दा तूल पकड़ता जा रहा है.

मुस्लिम छात्राओं का कहना है कि वे पहले से हिजाब पहनकर पढ़ाई करती आ रही हैं और पहले कभी इस पर कोई विवाद नहीं था. जबकि दूसरा तबका मानता है कि शिक्षा का यूनिफॉर्म से कोई लेना-देना नहीं है और सभी को स्कूल में एक समान ही रहना चाहिए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें