scorecardresearch
 

कांग्रेस की मांग- तत्काल रुके सेंट्रल विस्टा पर कार्य, CPWD ने बताया- कब तक पूरी होगी परियोजना

कांग्रेस नेता ने कहा कि सेंट्रल विस्टा के लिए 20 हजार करोड़ रुपये हैं. नए संसद भवन पर करोड़ों रुपये खर्च करने का क्या उपयोग है, लेकिन गरीबों को महामारी के समय 6 हजार रुपये देने के लिए नहीं हैं.

सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट पर काम जारी (फोटोः पीटीआई) सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट पर काम जारी (फोटोः पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कांग्रेस नेता शक्ति सिंह गोहिल ने पीएम मोदी पर साधा निशाना
  • कहा- नए संसद भवन के लिए करोड़ों हैं, गरीबों के लिए 6 हजार नहीं

कोरोना वायरस की महामारी के बीच दिल्ली में लॉकडाउन लागू है लेकिन इसके बावजूद सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट पर निर्माण कार्य जारी है. सेंट्रल विस्टा पर कार्य को भी जरूरी सेवाओं में शामिल कर काम जारी रखा गया है. इस बीच इसे लेकर सियासी घमासान छिड़ता नजर आ रहा है. इससे संबंधित मामला कोर्ट में भी है. वहीं, कांग्रेस ने इस परियोजना पर कार्य तत्काल रोकने की मांग की है.

कांग्रेस नेता शक्ति सिंह गोहिल ने केंद्र सरकार से सर्वदलीय बैठक बुलाने की मांग की. उन्होंने कहा कि पीएम को विपक्षी नेताओं की बात भी सुननी चाहिए. गोहिल ने कहा कि सरकार ने राम के नाम पर वोट लेकर देश को राम भरोसे छोड़ दिया है. सरकार को ऑक्सीजन की सप्लाई, दवाओं की उपलब्धता, वेंटिलेटर में सुधार करने की जरूरत है लेकिन सरकार ऐसे समय में प्रधानमंत्री के लिए दिसंबर 2022 तक महलनुमा बंगलो का निर्माण कराने के लिए एनवायरमेंट क्लियरेंस में व्यस्त है. क्या यह किसी सरकार की प्राथमिकता होनी चाहिए.

शक्ति सिंह गोहिल ने पीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि यह नरेंद्र मोदी के लिए नई बात नहीं है. उन्होंने पीएम पर गुजरात का सीएम रहते समय सीएम हाऊस के समीप स्थित 8 बंगलों का अधिग्रहण करने का आरोप लगाया और कहा शीश महल जैसा निर्माण कराने पर करोड़ों रुपये खर्च किए गए लेकिन उन्होंने कभी एक नए अस्पताल का निर्माण नहीं कराया.

गोहिल इतने पर ही नहीं रुके. शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि वे कभी वेंटिलेटर, ऑक्सीजन प्लांट्स लगाने को लेकर चिंतित नहीं रहे. पीएम ने जान है तो जहान है कहा, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान भी मास्क लगाए नजर आए लेकिन रैलियों में कभी मास्क नहीं पहना. एक्सपर्ट्स आज संक्रमण की चेन तोड़ने और इंफ्रास्ट्रक्चर में सुधार के लिए देशव्यापी लॉकडाउन का सुझाव दे रहे हैं. राहुल गांधी ने भी लॉकडाउन का सुझाव दिया है लेकिन दिहाड़ी मजदूरों को आर्थिक सहयोग के साथ.

कांग्रेस नेता ने कहा कि सेंट्रल विस्टा के लिए 20 हजार करोड़ रुपये हैं. नए संसद भवन पर करोड़ों रुपये खर्च करने का क्या उपयोग है लेकिन गरीबों को महामारी के समय 6 हजार रुपये देने के लिए नहीं हैं. गौरतलब है कि सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट दिसंबर 2022 तक पूरा होने का अनुमान व्यक्त किया है. इस महात्वाकांक्षी परियोजना में प्रधानमंत्री आवास का निर्माण भी कराया जाना है. सीपीडब्ल्यूडी ने एक्सपर्ट अप्रेजल कमेटी को बताया है कि संसद भवन के विस्तार, नए संसद भवन का निर्माण नवंबर 2022 तक पूरा हो जाएगा और प्रधानमंत्री आवास का निर्माण दिसंबर 2022 तक पूरा हो जाएगा.

(समाचार एजेंसी पीटीआई के इनपुट के साथ)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें