scorecardresearch
 

Agnipath Recruitment Process: साल के आखिर तक बन जाएगा 'अग्निवीरों' का पहला बैच, जानें तीनों सेनाओं का क्या है भर्ती प्लान

Agnipath Recruitment Process: अग्निपथ योजना का विरोध भले ही कितना भी हो, लेकिन तीनों सेनाओं ने अग्निवीरों को भर्ती करने की तैयारी शुरू कर दी है. इस साल के आखिर तक तीनों सेनाओं में अग्निवीरों की भर्ती हो जाएगी.

X
इस साल 46 हजार अग्निवीरों को भर्ती किया जाएगा. (फाइल फोटो-PTI) इस साल 46 हजार अग्निवीरों को भर्ती किया जाएगा. (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तीनों सेनाओं में जल्द शुरू होने वाली है भर्ती प्रक्रिया
  • आर्मी में 16 अक्टूबर और 13 नवंबर को एंट्रेंस टेस्ट
  • वायुसेना में 30 दिसंबर से शुरू हो जाएगा कोर्स

Agnipath Recruitment Process: केंद्र सरकार की 'अग्निपथ योजना' को लेकर भले ही विरोध हो रहा हो, लेकिन तीनों सेनाओं ने 'अग्निवीरों' की भर्ती की तैयारी शुरू कर दी है. इस साल के आखिर तक तीनों सेनाओं में अग्निवीरों के पहले बैच की भर्ती हो जाएगी. 

अग्निपथ योजना के तहत चार साल के लिए तीनों सेनाओं में युवाओं को भर्ती किया जाएगा. इन युवाओं को 'अग्निवीर' कहा जाएगा. इस साल 46 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जाएगी, जिनमें से 40 हजार अग्निवीर थल सेना में भर्ती होंगे. चार साल बाद 25 फीसदी अग्निवीरों को सेना में आगे बरकरार रखा जाएगा, जिसके बाद वो और 15 साल तक सेना में सेवा दे सकेंगे. 

रक्षा मंत्रालय के अधीन आने वाले डिपार्टमेंट ऑफ मिलिट्री अफेयर्स के एडिशनल सेक्रेटरी लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी ने बताया कि दुनिया के किसी भी देश में भारत जैसी डेमोग्राफी नहीं है. हमारे देश की 50 फीसदी आबादी 25 साल से कम है और हमें इसका फायदा उठाना चाहिए.

जानकारी के मुताबिक, अग्निवीरों को सेना की तरह ही ट्रेनिंग दी जाएगी. नौसेना में शामिल होने वाले अग्निवीरों को 22 हफ्ते की ट्रेनिंग मिलेगी, तो वहीं सेना में जाने वाले अग्निवीरों को 6 महीने की ट्रेनिंग दी जाएगी. ट्रेनिंग के बाद इन्हें तैनात किया जाएगा. अग्निवीरों को 48 लाख रुपये का बीमा कवर किया जाएगा. अगर सेवा के दौरान किसी अग्निवीर की मौत हो जाती है, तो उसके परिजनों को 44 लाख रुपये का मुआवजा मिलेगा. 

ये भी पढ़ें-- Agnipath Scheme: सिर्फ 30 दिन की छुट्टी, बैज भी अलग, सैलरी में 30% कटौती, आर्मी के जवान से कितना अलग होगा अग्निवीर?

अग्निवीरों की भर्ती से ट्रेनिंग तक का क्या है शेड्यूल?

1. थल सेना का शेड्यूल

- लेफ्टिनेंट जनरल बंसी पोनप्पा ने बताया कि अभ्यर्थियों के ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और रिक्रूटमेंट रैलियों की घोषणा 1 जुलाई से शुरू होंगी. अगस्त के दूसरे हफ्ते से रिक्रूटमेंट रैलियां शुरू होंगी. 

- अग्निवीरों के पहले बैच के लिए एंट्रेंस टेस्ट 16 अक्टूबर और 13 नवंबर को होगा. चुने गए अभ्यर्थी 22 दिसंबर को ट्रेनिंग सेंटर पर रिपोर्ट करेंगे. जुलाई 2023 से अग्निवीरों की तैनाती शुरू होगी.

- उन्होंने बताया कि दूसरे बैच के लिए एंट्रेंस टेस्ट 23 जनवरी से होगा और 23 फरवरी को ट्रेनिंग सेंटर पर रिपोर्टिंग होगी. उन्होंने बताया कि अभ्यर्थियों की मदद के लिए अग्निवीर हेल्पलाइन भी शुरू की गई है.

2. वायुसेना का शेड्यूल

- एयर मार्शल एसके झा ने बताया कि 24 जून से 5 जुलाई के बीच अभ्यर्थियों का रजिस्ट्रेशन होगा. इसके बाद 24 से 31 जुलाई के बीच स्टार एग्जामिनेशन (ऑनलाइन) के लिए रजिस्ट्रेशन किए जाएंगे.

- एग्जाम में जो पास होंगे, उन्हें 10 अगस्त से कॉल लेटर भेजे जाएंगे. इन अभ्यर्थियों का मेडिकल टेस्ट 29 अगस्त से 8 नवंबर तक होगा.

- उन्होंने बताया कि 1 दिसंबर को प्रोविजनल सिलेक्शन लिस्ट जारी होगी. चुने गए अभ्यर्थियों को 11 दिसंबर से कॉल लेटर भेजा जाएगा. 30 दिसंबर से कोर्स शुरू होगा.

3. नौसेना का शेड्यूल

- वाइस एडमिरल (पर्सोनेल) दिनेश त्रिपाठी ने बताया कि अभ्यर्थियों का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 1 जुलाई से शुरू होगा. जुलाई में ही डिटेल्ड नोटिफिकेशन जारी होगा.

-  उन्होंने बताया कि एप्लीकेशन विंडो 15 से 30 जुलाई तक खुली रहेगी. एग्जाम और फिजिकल टेस्ट अक्टूबर के बीच में होगा. जबकि, ट्रेनिंग 21 नवंबर से शुरू होगी.

ये भी पढ़ें-- Agniveer as Param Vir: क्या अग्निवीर बन पाएंगे 'परमवीर'? अब तक इन जवानों को मिल चुका है वीरता का 'सर्वोच्च सम्मान'

क्या है अग्निपथ योजना?

- अग्निपथ योजना के तहत चार साल के लिए युवाओं को सेना में भर्ती किया जाएगा. इसके लिए आयुसीमा 17.5 से 21 साल के बीच रखी गई है. हालांकि, इस साल 23 साल तक के युवा आवेदन कर सकते हैं. इस साल 46 हजार युवाओं को भर्ती किया जाएगा.

- इस योजना के तहत तीनों सेनाओं में युवा चार साल के लिए भर्ती होंगे. इन्हें 'अग्निवीर' कहा जाएगा. सबसे ज्यादा 40 हजार युवा सेना में भर्ती होंगे.

- अग्निवीरों को हर महीने 30 हजार रुपये की सैलरी मिलेगी. ये सैलरी हर साल बढ़ेगी और चौथे साल 40 हजार रुपये महीने सैलरी मिलेगी. 

- इसके अलावा अग्निवीरों को 48 लाख रुपये का बीमा कवर मिलेगा. सेवा के दौरान शहीद होने या दिव्यांग होने पर 44 लाख रुपये तक का मुआवजा मिलेगा.

- चार साल की सेवा पूरी होने के बाद 25% युवा सेना में आगे बरकार रहेंगे. इन्हें और 15 साल तक सेना में सेवा करने का मौका मिलेगा. इस दौरान सेनाओं के कानून और शर्तें इन पर लागू होंगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें