scorecardresearch
 

ऐसे लोगों के बुरे दिन जरूर आते हैं...संजय राउत के खिलाफ एक्शन पर भड़के उद्धव ठाकरे

पात्रा चॉल जमीन घोटाला मामले में गिरफ्तार संजय राउत सोमवार को कोर्ट में पेश किया गया. जब वह कोर्ट रूम में घुस रहे थे तब समर्थकों ने उनके समर्थन में नारेबाजी की. इस दौरान कोर्ट रूम के बाहर भारी पुलिस बल तैनात रहा. मालूम को कि 31 जुलाई को ईडी ने सुबह 7 बजे संजय राउत के घर पर पहुंचकर कार्रवाई शुरू कर दी थी.

X
संजय राउत की गिरफ्तारी के बाद उद्धव ठाकरे उनके परिजनों से मिलने घर गए (PTI) संजय राउत की गिरफ्तारी के बाद उद्धव ठाकरे उनके परिजनों से मिलने घर गए (PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ईडी की पूछताछ के बाद शिवसेना सांसद हुए अरेस्ट
  • संजय राउत के घर से मिले थे 11.50 लाख रुपये

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने सोमवार को कहा कि बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा के भाषण से पता चलता है कि हमारा देश किस ओर जा रहा है. हमें एक स्टैंड लेना चाहिए कि क्या हमें ऐसा होने देना चाहिए?

प्रेसवार्ता में उन्होंने कहा कि नड्डा के बयानों से पता चलता है कि हम तानाशाही की ओर बढ़ रहे हैं. वर्तमान राजनीति खराब हो गई है. मालूम हो कि बिहार में जेपी नड्डा ने कहा था,''हम अपनी विचारधारा पर चलते रहे तो देश से क्षेत्रीय पार्टियां खत्म हो जाएंगी.'' ईडी की कार्रवाई के बारे में उन्होंने कहा,''मुझे संजय राउत पर गर्व है.'' 

उन्होंने केंद्र को घेरते हुए कहा, ''सिर्फ इसलिए कि आप बहुमत हैं, हम सबको खत्म करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन हर दिन एकसा नहीं होता. ध्यान रखिएगा कि दिन जल्द ही बदल जाएंगे.ऐसे लोगों के बुरे दिन जरूर आते हैं.उद्धव ने कहा कि जब हमारा वक्त आएगा तो सोचिए आपका (भाजपा) क्या होगा.

'हिटलर जैसा करता था, वैसा आज हो रहा'

उद्धव ठाकरे ने द्वितीय विश्व युद्ध का जिक्र करते हुए कहा कि हिटलर उस दौरान अपने चरम पर था. वह दुनिया जीतने वाला था. कार्टूनिस्ट डेविड लोव के कैरिकेचर हिटलर को परेशान करते थे. वह उन सभी को पकड़ने का आदेश दे देता था जो उसके खिलाफ बोला करते थे. आज भी वैसा ही हो रहा है. 

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने भी 60 से 65 साल तक राज किया लेकिन अब देखिए, कुछ भी स्थायी नहीं है. यहां तक ​​कि मैं भी मुख्यमंत्री पद से प्रभावित नहीं हुआ, जिस पर मैं पिछले ढाई साल से था. उन्होंने अपील करते हुए कहा कि इतना घिनौना व्यवहार न करें. हमारे देश में ऐसी संस्कृति नहीं है.

विभाजनकारी राजनीति कर रहे कोश्यारी

शिवसेना अध्यक्ष ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के बयान का जिक्र करते हुए कहा,'' कोश्यारी के बयान ने साबित कर दिया है कि क्षेत्रीय ताकतों को एकजुट होने की जरूरत है. वह विभाजनकारी राजनीति कर रहे हैं, जो बहुत हानिकारक है.''

कोश्यारी ने शुक्रवार को कहा था, 'कभी-कभी मैं यहां के लोगों से कहता हूं कि महाराष्ट्र से, विशेषकर मुंबई और ठाणे से गुजरातियों और राजस्थानियों को निकाल दो तो तुम्हारे यहां कोई पैसा बचेगा ही नहीं.''

ममता, केसीआर के संपर्क में हूं: उद्धव

एक दलाल ने कहा कि अब मुझे विधायकों और सांसदों की तलाश करनी है लेकिन अब मेरे पास जो बचे हैं, वह मेरे वफादार और ताकतवर लोग हैं.

उन्होंने कहा कि जो मुझे छोड़कर गए हैं, वे अभी हमाम में हैं, सत्ता का पानी उतरेगा तो उन्हें अपनी कीमत का एहसास हो जाएगा. उन्होंने कहा,''मैं ममता बनर्जी और केसीआर जैसे क्षेत्रीय पार्टी नेताओं के संपर्क में हूं. बीजेपी देश से क्षेत्रीय ताकतों का सफाया करने की योजना बना रही है.

ED के अधिकार बढ़ाने के फैसले को देंगे चुनौती

सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने आजतक से कहा कि संजय राउत की गिरफ्तारी केंद्र सरकार द्वारा एजेंसियों का दुरुपयोग है. उन्होंने कहा कि सरकार केंद्रीय एजेंसियों और उसके अधिकारों का इस्तेमाल विपक्षी नेताओं को परेशान करने और गैर बीजेपी शासित राज्यों की सरकारों को गिराने के लिए इस्तेमाल कर रही है. 

सीताराम येचुरी ने मांग की कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत ED को दिए गए अधिकारों के फैसले पर पुनर्विचार करना चाहिए. उन्होंने बताया कि सभी विपक्षी पार्टियां अब सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करने पर विचार कर रही हैं.
 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें