scorecardresearch
 

पहाड़ों की बर्फबारी ने दिल्ली में जमाई 'कुल्फी', 4 साल का रिकॉर्ड टूटा

पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी के कारण दिल्ली में शुक्रवार रात न्यूनतम तापमान 4.7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया. आने वाले दिनों में यही स्थिति बनी रहेगी. देहरादून में प्रशासन की ओर से ठंड से बचाव के लिए कोई इंतजाम नहीं किए गए हैं.

न्यूनतम तापमान 4.7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया (फोटो-PTI) न्यूनतम तापमान 4.7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया (फोटो-PTI)

उत्तराखंड के पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी ने पहाड़ी और मैदानी क्षेत्र के लोगों का जीना मुहाल कर ही दिया है. मौसम विभाग ने अगले कुछ दिन में ठंड और शीत लहर के साथ ही कोहरे के बढ़ने की भविष्यवाणी की है. दिल्ली में शुक्रवार रात न्यूनतम तापमान 4.7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया. दिल्ली में ठंड ने पिछले चार साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. इससे पहले 28 दिसंबर 2014 को दिल्ली का न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा गया था.

मौसम विभाग के अनुसार, तापमान में अचानक आए इस बदलाव के पीछे दो अहम कारण हैं. पहला 3 दिसंबर को पश्चिमी विक्षोभ के कारण पहाड़ों पर बर्फबारी हुई तो वहां से चलने वाली हवाओं ने मैदानी क्षेत्र में पारा लुढ़का दिया. दूसरा बड़ा कारण मानसून के समय बारिश का कम होना. इन दिनों दिल्ली में हवा का बहाव उत्तर-पश्चिम दिशा से हो रहा है, जिसके कारण बर्फीली हवाएं ने दिल्लीवासियों को ठिठुरने पर मजबूर कर दिया है. आने वाले दिनों में यही स्थिति बनी रहने की संभावना है. दिल्ली का न्यूनतम तापमान में सामान्य से तीन डिग्री तक नीचे बना रहेगा.

देहरादून में कोई इंतजाम नहीं

शुक्रवार रात देहरादून में न्यूनतम तापमान 5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. इस दौरान आजतक की टीम ने देर रात देहरादून के सार्वजनिक स्थानों का जायजा लिया. रेलवे स्टेशन पर अमूमन रात को काफी भीड़-भाड़ रहती है, लेकिन जब आजतक की टीम वहां पहुंची तो पूरे रेलवे स्टेशन पर सन्नाटा पसरा हुआ था. जो कुछ लोग वहां मौजूद थे, वो भी कंबल ओढ़ कर किसी तरह ठंड से बचाव करने की कोशिश में लगे हुए थे. स्थानीय प्रशासन के दावे यहां पर फुर्र होते दिखाई दिए. पुलिस चेक पोस्ट को छोड़कर रेलवे स्टेशन, अस्पताल समेत कई सार्वजनिक स्थानों पर अलाव की व्यवस्था कहीं नहीं दिखाई दी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें