scorecardresearch
 

दिल्ली आ रहीं 21 ट्रेनें लेट, राजधानी में खतरनाक स्तर पर प्रदूषण, AQI 550 पार

दिल्ली वालों को आज ठंड से थोड़ी राहत मिलती दिख रही है. अधिकतम पारा भी 20 के आसपास जा सकता है, लेकिन बारिश की आशंका बनी हुई है. हालांकि, उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में अभी शीतलहर है, जिसका असर ट्रेन सेवाओं पर पड़ा है. लो विजिबिलिटी के चलते दिल्ली आने वाली 21 ट्रेनें लेट चल रही है.

सांकेतिक तस्वीर (Courtesy- PTI) सांकेतिक तस्वीर (Courtesy- PTI)

  • मालदा-दिल्ली-फरक्का एक्सप्रेस और गया-नई दिल्ली महाबोधि लेट
  • बुधवार को कड़ाके की ठंड और घने कोहरे के चलते 29 ट्रेनें हुई थीं लेट

दिल्ली वालों को आज ठंड से निजात मिलती दिख रही है. पारा छह डिग्री के करीब है. अधिकतम पारा भी 20 के आसपास जा सकता है, लेकिन बारिश की आशंका बनी हुई है. हालांकि, उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में अभी शीतलहर और कोहरा जारी है.

इसका असर ट्रेन सेवाओं पर पड़ा है. लो विजिबिलिटी के कारण दिल्ली आने वाली 21 ट्रेनें लेट चल रही है. वहीं, दिल्ली में वायु प्रदूषण खतरनाक स्तर पर है. दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम पर एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 555 रिकॉर्ड किया गया, जो बेहद खतरनाक स्तर पर है.

शीतलहर और कोहरे के चलते मालदा-दिल्ली-फरक्का एक्सप्रेस चार घंटे, गया-नई दिल्ली महाबोधि ढाई घंटे, भुवनेश्वर दुरंतो एक्सप्रेस दो घंटे, रीवा-आनंद विहार रीवा एक्सप्रेस चार घंटे, आजमगढ़-दिल्ली कैफियत एक्सप्रेस दो घंटे, हावड़ा-नई दिल्ली पूर्वा एक्सप्रेस दो घंटे, भुवनेश्वर-नई दिल्ली राजधानी पांच घंटे और हैदराबाद-निजामुद्दीन दक्षिण एक्सप्रेस दो घंटे लेट चल रही है.

इससे पहले एक जनवरी को भी घने कोहरे के चलते रेल परिवहन प्रभावित हुआ था. उत्तर भारत के कई हिस्सों में घने कोहरे के कारण दिल्ली आने वाली कम से कम 29 ट्रेनें नौ घंटे तक देरी से चल रही थीं. बुधवार को नांदेड़-अमृतसर सचखंड एक्सप्रेस नौ घंटे लेट थी, जबकि डिब्रूगढ़-लालगढ़ अवध असम एक्सप्रेस और जबलपुर-हजरत निजामुद्दीन महाकौशल एक्सप्रेस करीब पांच घंटे लेट थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें