scorecardresearch
 

'लिपस्टिक...' विवाद पर बोले पहलाज निहलानी- मुझे हटा दो, मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता

फिल्म 'लिपस्टिक अंडर माय बुर्का' के सर्टिफिकेट न देने के कारण सीबीएफसी के चेयरपर्सन पहलाज निहलानी एक बार फिर सुर्खियों में हैं. इस विवाद पर बोलते हुए पहलाज ने कहा- मुझे हटा दो, मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता.

पहलाज निहलानी पहलाज निहलानी

सीबीएफसी के चेयरपर्सन पहलाज निहलानी 'लिपस्टिक अंडर माय बुर्का' को 'असंस्कारी' कहने पर एक बार फिर सुर्खियों में आ गए हैं. फिल्म को सर्टिफिकेट ना देने के कारण पूरा बॉलीवुड उनकी निंदा कर रहा है. इस बात पर पहलाज ने कहा कि अरे मुझे हटा दो, मुझे फर्क नहीं पड़ता. लेकिन मैं ईमानदारी से अपना काम करता रहूंगा.

'लिपस्टि‍क' विवाद पर बॉलीवुड की आवाज, सेंसर बोर्ड करता है 'मूर्खता भरी' बात

उन्होंने आगे कहा कि हिंदुस्तान की परंपरा के हिसाब से फिल्म बनानी चाहिए. फिल्म फेस्टिवल में फिल्में देखकर बहुत लोग तालियां बजा देते हैं लेकिन थिएटर में फिल्म देखने पब्लिक नहीं आती. पहलाज ने कहा कि हमें फिल्म में दिखाए गए कंटेंट से समस्या है ना कि बुर्का शब्द से. हम महिला सशक्तिकरण के पक्ष में हैं लेकिन उन्हें गलत दिखाने के खिलाफ हैं.

Exclusive: 'लिपस्टि‍क' विवाद पर बोले पहलाज, संस्कार हमारे देश का धर्म

वहींऑल इंडिया मुस्लिम त्यौहार कमिटी ने फिल्म के खिलाफ फतवा भी जारी कर दिया है.

असंस्कारी 'लिपस्टिक अंडर माय बुर्का' को मिल चुके हैं कई अवॉर्ड्स
दरअसल केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (CBFC) ने प्रकाश झा की नई फिल्म 'लिपस्टिक अंडर माय बुर्का' को सर्टिफिकेट देने से इनकार कर दिया. CBFC ने फिल्म प्रोड्यूसर प्रकाश झा को एक चिट्ठी भेजकर कारण साफ किया है कि क्यों फिल्म को प्रमाणित नहीं किया गया है. अलंकृता श्रीवास्तव के निर्देशन में बनी इस फिल्म को प्रकाश झा ने प्रोड्यूस किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें