scorecardresearch
 

Amitabh Bachchan की आवाज सुनकर राजू ने खोली थी आंखें, फिर हमेशा के लिए कर ली बंद

राजू श्रीवास्तव अमिताभ बच्चन के बड़े फैन थे. वे अमिताभ की मिमिक्री करते थे. अमिताभ की मिमिक्री ने ही राजू को स्टार बनाया. राजू के निधन से अमिताभ बच्चन भी दुखी हैं. अमिताभ ने अपने ब्लॉग में राजू को याद किया है. बताया कि उन्होंनेे राजू को वायस नोट्स भेजे थे. मगर तब भी राजू को नहीं बचाया जा सका.

X
अमिताभ बच्चन-राजू श्रीवास्तव अमिताभ बच्चन-राजू श्रीवास्तव

21 सितंबर को कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव दुनिया छोड़कर चले गए. राजू पिछले 42 दिनों से एम्स में एडमिट थे. हर कोई उम्मीद कर रहा था कि राजू सर्वाइव कर जाएंगे. मगर इसके उलट हुआ. राजू ने 42 दिनों बाद जिदंगी से हार मान ली और आखिरी सांस ली. राजू के निधन से अमिताभ बच्चन भी दुखी हैं. राजू को कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव बनाने में बिग बी का अहम योगदान है. अमिताभ ने अपने ब्लॉग में राजू के लिए इमोशनल नोट लिखा है.

अमिताभ ने किया राजू श्रीवास्तव को याद

बिग बी कॉमेडियन की याद में लिखते हैं- एक और सहयोगी दोस्त, क्रिएटिव आर्टिस्ट ने हमारा साथ छोड़ दिया. अचानक से बीमार हुए और अपनी क्रिएटिविटी पूरी किए बिना समय से पहले चले गए. अमिताभ ने ब्लॉग में बताया कि कॉमेडियन के परिजनों के कहने पर वे हर रोज सुबह राजू श्रीवास्तव को होश में लाने के लिए वॉयस नोट्स भेजते थे. उन वायस नोट्स को राजू श्रीवास्तव के कानों के पास प्ले किया जाता था, उन्हें अमिताभ की आवाज सुनाई जाती थी. एक बार तो राजू ने आवाज सुनने के बाद अपनी आंख थोड़ी सी खोली भी थी. मगर फिर राजू ने हमेशा के लिए अपनी आंखें बंद कर ली. 

अमिताभ ने की राजू की तारीफ

अमिताभ बच्चन ने लिखा कि राजू श्रीवास्तव को उनकी कॉमिक टाइमिंग और ह्यूमर के लिए हमेशा याद किया जाएगा. बिग बी लिखते हैं- राजू का ह्यूमर यूनीक था, ओपन फ्रैंक और मजाक से भरा हुआ था. वे अब स्वर्ग से मुस्कुरा रहे होंगे और भगवान को भी हंसने की वजह मिल गई होगी. अमिताभ बच्चन का ये पोस्ट दिल छूने वाला है. बिग बी ने अपनी तरफ से राजू की सेहत में सुधार लाने की पूरी कोशिश की थी. मगर राजू को तब भी नहीं बचाया जा सका. 

राजू को बिग बी ने भेजे थे वॉयस नोट्स  

पिछले महीने रिपोर्ट्स आई थीं कि अमिताभ ने राजू के परिवार को वॉयस नोट्स भेजे हैं. तब राजू कोमा में थे. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वॉयस नोट में अमिताभ बोल रहे थे- बहुत हुआ राजू, उठो राजू उठो, हम सभी को हंसना सिखाते रहो. राजू को होश में लाने की डॉक्टर्स और परिवार ने भरपूर कोशिश की थी. 10 अगस्त को जिम में वर्कआउट करते हुए राजू को कार्डियक अरेस्ट आया था. जिसके बाद वे 42 दिनों तक एम्स में एडमिट रहे थे. परिवार को आस थी कि राजू बच जाएंगे, मगर सबको रुलाकर कॉमेडियन हमेशा के लिए अलविदा कह गए. 

अमिताभ के फैन थे राजू

राजू अमिताभ के बहुत बड़े फैन थे. वे अमिताभ की मिमिक्री करते थे. अमिताभ की मिमिक्री ने ही राजू को स्टार बनाया. राजू ने अमिताभ के स्टाइल, लहजे और एक्सप्रेशंस को बारीकी से पकड़ लिया था. मुंबई आने पर जब राजू दर दर भटक रहे थे तब अमिताभ की मिमिक्री कर उनकी किस्मत बदली थी. राजू ने कहा भी था कि बच्चन साहब की वजह से उन्हें रोजी रोटी मिली थी. राजू ने कई दफा अपने आइडल अमिताभ बच्चन के सामने परफॉर्म किया था. अमिताभ भी राजू की मिमिक्री और कॉमेडी से इंप्रेस थे.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें