scorecardresearch
 

जितिन प्रसाद बोले- कोई डील करके नहीं आया हूं, बीजेपी के साथ देशहित में करेंगे काम

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पूर्व मंत्री जितिन प्रसाद ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया है. जितिन प्रसाद ने कहा कि भाजपा ज्वाइन करने का फैसला कोई क्षणिक नहीं है, बल्कि लंबे वक्त से इस तरह की मांग की जा रही थी. 

भाजपा में शामिल हुए जितिन प्रसाद (फोटो: PTI) भाजपा में शामिल हुए जितिन प्रसाद (फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बीजेपी ज्वाइन करने के बाद जितिन प्रसाद का पहला इंटरव्यू
  • जनता से कट चुकी है कांग्रेस पार्टी: जितिन
  • देशहित में काम कर रही है बीजेपी: जितिन

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पूर्व मंत्री जितिन प्रसाद ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया है. गुरुवार को जितिन प्रसाद ने आजतक से खास बात की और अपनी रणनीति का खुलासा किया. जितिन प्रसाद ने कहा कि भाजपा ज्वाइन करने का फैसला कोई क्षणिक नहीं है, बल्कि लंबे वक्त से इस तरह की मांग की जा रही थी. 

जितिन प्रसाद का कहना है कि अगर किसी दल में रहकर जनता की सेवा नहीं हो सकती तो ये फैसला लेना पड़ा. बीजेपी देशहित और आने वाली पीढ़ियों के हित में काम कर रही है, ऐसे में मैं उसके साथ जुड़ गया हूं. 

जितिन प्रसाद ने कहा कि ना किसी पद और ना किसी व्यवहार के लिए ये सब किया है, कांग्रेस पार्टी अब जनता से दूर हो गई है और वह जनता की भावनाओं के अनुरुप काम नहीं कर पा रही है. हमारी ऊर्जा व्यर्थ हो रही है, हम चुनाव लड़े लेकिन हार गए क्योंकि लोगों में पीएम मोदी के लिए भावना है. जितिन प्रसाद ने कहा कि जिस प्रदेश से मैं आता हूं, वहां कांग्रेस का कोई महत्व नहीं है. 

बीजेपी नेता जितिन प्रसाद ने कहा कि राजनीति में होते वक्त देश के बारे में भी सोचना होता है, देश की सुरक्षा और देशहित में अभी भाजपा ही काम कर रही है.

दिशाहीन हो गई है कांग्रेस पार्टी: जितिन प्रसाद
क्या कांग्रेस में लीडरशिप में बदलाव की जरूरत है, इस सवाल पर जितिन ने कहा कि अब मैं बीजेपी का सदस्य हूं, ऐसे में वहां क्या होना है वो ही तय करेंगे. पिछले 6-7 साल में कांग्रेस में लगातार गिरावट हुई है, मैंने कई बार अपनी बात रखने का प्रयास किया, लेकिन वहां सुनवाई नहीं हुई. कांग्रेस दिशाहीन हो गई है. 

जितिन ने कहा कि कांग्रेस को छोड़ने का फैसला मुश्किल था, क्योंकि तीन पीढ़ियों का जुड़ाव रहा है. क्या कांग्रेस के अन्य युवा नेता भी बीजेपी में आएंगे, इस सवाल पर जितिन ने कहा कि ये वही बता पाएंगे.

क्या जितिन केंद्र की राजनीति में रहेंगे या फिर राज्य की राजनीति में रहेंगे, इस पर जितिन ने कहा कि वह कोई डील करके नहीं आए हैं, बल्कि आगे की राजनीति उनकी अब बीजेपी के साथ ही रहेगी. जो काम दिया जाएगा, वह करेंगे. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें