scorecardresearch
 

मोहनिया विधानसभा सीट: BJP की लगातार तीसरी जीत पर नजर, कांग्रेस को वापसी की उम्मीद

बिहार की मोहनिया विधानसभा सीट का गठन 1957 में हुआ था. इस सीट पर अब तक हुए 16 चुनावों में से सबसे ज्यादा बार कांग्रेस को जीत मिली है, जबकि दो बार बीजेपी और दो बार जेडीयू का कब्जा रहा है. 2015 के विधानसभा चुनाव में भी निरंजन राम को बीजेपी के टिकट से जीत मिली. 

Bihar Election, Mohania assembly seat Bihar Election, Mohania assembly seat
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मोहनिया सीट पर 2014 से भाजपा का कब्जा
  • मोहनिया सीट पर दो बार जीत चुके निरंजन राम

मोहनिया विधानसभा सीट (Mohania Assembly Seat) बिहार के कैमूर जिले में आती है. बिहार की मोहनिया विधानसभा सीट पर पिछले दो बार से भारतीय जनता पार्टी (BJP) का कब्जा है. मोहनिया विधानसभा सीट पर BJP के निरंजन राम लगातार दो बार चुनाव जीत चुके हैं. दरअसल, उन्होंने 2014 के उपचुनाव में जीत हासिल की थी. इसके बाद 2015 के विधानसभा चुनाव में भी निरंजन राम को बीजेपी के टिकट से जीत मिली थी. 

कब है वोट‍िंग, क‍ितने प्रत्‍याशी?
मोहनिया विधानसभा सीट पर पहले चरण में 28 अक्टूबर को मतदान है. मोहनियां सुरक्षित विधानसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने एक बार फिर निरंजन राम को मैदान में उतारा है. जबकि महागठबंधन से यह सीट आरजेडी के खाते में आई है. संगीता कुमारी आरजेडी से चुनाव लड़ रही हैं. इसके अलावा श्वेता सुमन आरएलएसपी (RLSP) की ओर से चुनाव मैदान में हैं.

बता दें कि इस साल होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव 3 चरणों में होंगे. पहले चरण का चुनाव 28 अक्टूबर को होगा, दूसरे चरण के लिए 3 नवंबर को वोट डाले जाएंगे जबकि तीसरे यानी आखिरी चरण का चुनाव 7 नवंबर को होगा. बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे 10 नवंबर को आएंगे. 

मोहनिया विधानसभा सीट का राजनीतिक इतिहास
बिहार की मोहनिया विधानसभा सीट का गठन 1957 में हुआ था. इस सीट पर अब तक हुए 16 चुनावों में से सबसे ज्यादा बार कांग्रेस को जीत मिली है, जबकि दो बार बीजेपी और दो बार जेडीयू का कब्जा रहा. इस सीट पर आरजेडी ने सिर्फ एक बार ही जीत हासिल की है. फरवरी 2005 में हुए चुनाव में RJD जबकि अक्टूबर 2005 और 2010 में जेडीयू की जीत हुई. साल 2010 में हुए बिहार विधानसभा चुनाव में मोहनिया विधानसभा सीट पर JDU के छेदी पासवान ने चुनाव जीता था. छेदी पासवान ने RJD के निरंजन राम को कांटे की टक्कर में 25 सौ वोटों से हराया था. इसके अलावा 2014 में मोहनिया बीजेपी के निरंजन राम ने चुनाव जीता और 2015 में भी अपना जलवा बरकरार रखा.


सामाजिक ताना बाना
बिहार की मोहनिया विधानसभा सीट सासाराम लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आती है. 2011 की जनगणना के अनुसार, मोहनिया की कुल जनसंख्या 3,90,326 में से 98.28% ग्रामीण जबकि 1.72% शहरी आबादी है. अनुसूचित जाति (SC) और अनुसूचित जनजाति (ST) का अनुपात कुल जनसंख्या में से क्रमशः 24.67 और 0.72 है. 2019 की मतदाता सूची के अनुसार, इस निर्वाचन क्षेत्र में 259980 मतदाता और 285 मतदान केंद्र हैं. भाजपा, कांग्रेस, जेडी (यू) और राजद यहां की मुख्य पार्टियां हैं. 


2015 के चुनावी नतीजे
साल 2015 में हुए बिहार विधानसभा चुनाव में मोहनिया विधानसभा सीट पर BJP के निरंजन राम ने चुनाव जीता था. निरंजन राम ने कांग्रेस के संजय कुमार को हराया था. बीजेपी के निरंजन राम को 60,911 वोट मिले थे जबकि कांग्रेस के संजय कुमार ने 53,330 वोट प्राप्त किए थे. वहीं, तीसरे स्थान पर बहुजन समाज पार्टी के रामराज राम रहे थे, जिन्हें 9,921 वोट मिले थे. बता दें कि 2015 के विधानसभा चुनाव में कुल 2,48,460 मतदाताओं में से 1,40,595 वोटरों ने मतदान किया था. 


विधायक निरंजन राम के बारे में
निरंजन राम का जन्म 2 फरवरी 1968 को बिहार के कैमूर जिले में हुआ था. उन्होंने एमए की डिग्री हासिल की. निरंजन राम का निजी व्यवसाय खेती है. साल 2000 मे उन्होंने राजनीति में एंट्री ली थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें