scorecardresearch
 

डुमरांव विधानसभा सीट: क्या JDU इस बार लगा पाएगी जीत की हैट्रिक?

बिहार की डुमरांव विधानसभा सीट (Dumraon Assembly Seat) बक्सर लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आती है.साल 2015 में हुए बिहार विधानसभा चुनाव में डुमरांव विधानसभा सीट पर JDU के ददन यादव ने जीत हासिल की थी.

Bihar Election 2020, Dumraon assembly seat Bihar Election 2020, Dumraon assembly seat
स्टोरी हाइलाइट्स
  • डुमरांव सीट से लगातार 2 बार जीती जेडीयू
  • 2015 में JDU के ददन यादव को मिली जीत

बिहार की डुमरांव विधानसभा सीट (Dumraon Assembly Seat) बक्सर लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आती है. कभी कांग्रेस का गढ़ रही डुमरांव विधानसभा सीट पर JDU पिछले दो चुनावों में लगातार जीतती रही है. साल 2015 में हुए बिहार विधानसभा चुनाव में डुमरांव विधानसभा सीट पर JDU के ददन यादव को जीत मिली थी. बिहार विधानसभा चुनाव में जेडीयू-बीजेपी का गठबंधन होगा. 


डुमरांव विधानसभा सीट का राजनीतिक समीकरण
डुमरांव विधानसभा सीट का गठन 1951 में हुआ था. इस सीट के अंतर्गत कुल 36 पंचायत और नगर परिषद के 26 वार्ड शामिल हैं. डुमरांव विधानसभा सीट पर अब तक 16 चुनाव हुए हैं. वर्ष 1951 के पहले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी सरदार हरिहर सिंह ने जीत हासिल की थी. डुमरांव विधानसभा सीट पर 1951 से 1967 तक लगातार चार बार कांग्रेस उम्मीदवार ने जीत दर्ज की है. जबकि पिछले दो चुनाव यानी 2010 से जेडीयू का कब्जा है. साल 2010 में हुए बिहार विधानसभा चुनाव में JDU के दाऊद अली ने डुमरांव विधानसभा सीट पर चुनाव जीता था. वहीं, साल 2015 में हुए बिहार विधानसभा चुनाव में डुमरांव विधानसभा सीट पर JDU के ददन यादव ने जीत हासिल की थी.


सामाजिक ताना-बाना
डुमरांव विधानसभा सीट बक्सर लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आती है. 2011 की जनगणना के अनुसार, डुमरांव की कुल जनसंख्या 4,16,542 है. इसमें 87.13% ग्रामीण और 12.87% शहरी आबादी है. यहां की अनुसूचित जाति (एससी) 13.63 फीसदी और अनुसूचित जनजाति (एसटी) 1.25 फीसदी है. 2019 की वोटर लिस्ट के मुताबिक, डुमरांव विधानसभा क्षेत्र में 3,14,848 मतदाता हैं. भाजपा, कांग्रेस, जेडी (यू) और राजद यहां की मुख्य पार्टियां हैं. JDU के ददन यादव डुमरांव विधानसभा के विधायक हैं.


2015 के चुनावी नतीजे
2015 में हुए बिहार विधानसभा चुनाव में डुमरांव विधानसभा सीट पर JDU के ददन यादव ने चुनाव जीता था. ददन यादव ने राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) के राम बिहारी सिंह को हराया था. ददन यादव को 81,081 वोट मिले थे जबकि राम बिहारी को 50,742 वोट मिले थे. वहीं, तीसरे स्थान पर निर्दलीय उम्मीदवार श्रीकांत सिंह रहे थे, जिन्हें 14,656 वोट मिले थे. 2015 के विधानसभा चुनाव के अनुसार, डुमरांव विधानसभा क्षेत्र पर कुल 295508 मतदाताओं में से 1,69,254 वोटरों ने ही मतदान किया था. 


विधायक ददन यादव के बारे में 
01 जनवरी 1964 को जन्मे ददन यादव इंटरमीडिएट पास हैं. 1995 में उन्होंने राजनीति में एंट्री ली थी. ददन यादव वर्ष 2000 से 2004 तक सरकार में वाणिज्यकर राज्य मंत्री पद पर रहे हैं. इसके अलावा ददन यादव 2019 में अपने बेटे की बारात हेलिकॉप्टर से उत्तर प्रदेश के गाजीपुर लेकर गए थे. जिसके बाद बक्सर में काफी चर्चा हुई थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें