scorecardresearch
 

नंदीग्राम रिजल्ट से भड़के TMC कार्यकर्ता, शुभेंदु अधिकारी की गाड़ी पर किया हमला

Nandigram Suvendu Adhikari: नंदीग्राम में शुभेंदु अधिकारी के हाथों ममता बनर्जी शिकस्त झेलनी पड़ी है. इस बीच TMC समर्थक नंदीग्राम के परिणाम आने के बाद भड़क उठे. हल्दिया में शुभेंदु अधिकारी के काफिले पर पत्थरबाजी हुई.  

शुभेंदु अधिकारी (फ़ाइल फ़ोटो) शुभेंदु अधिकारी (फ़ाइल फ़ोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • TMC समर्थकों ने शुभेंदु के काफिले पर की पत्थरबाजी
  • नंदीग्राम में शुभेंदु की जीत से भड़के TMC कार्यकर्ता

West Bengal Election Results: बंगाल चुनाव में सीएम ममता बनर्जी खुद अपनी सीट नहीं बचा पाईं. नंदीग्राम में शुभेंदु अधिकारी के हाथों उन्हें शिकस्त झेलनी पड़ी है. ममता ने अपनी हार स्वीकार कर ली है. हालांकि, TMC समर्थक नंदीग्राम के परिणाम आने के बाद भड़क उठे. हल्दिया में शुभेंदु अधिकारी के काफिले पर पत्थरबाजी हुई. शुभेंदु के काफिले पर हमले का आरोप TMC समर्थकों पर लगा है. 

दरअसल, पश्चिम बंगाल में सरकार किसकी बनेगी यह लगभग तय हो गया है. अब तक सामने आए रुझानों से साफ है कि बंगाल में एक बार फिर ममता बनर्जी की पार्टी TMC की सरकार बनाने जा रही है. लेकिन खुद ममता बनर्जी नंदीग्राम से चुनाव हार गईं, हालांकि अभी वोटों की गिनती जारी है, लेकिन शुभेंदु ने अपनी जीत कर दिया है. कुछ देर पहले ममता ने भी हार स्वीकार कर ली. इस मसले पर TMC का प्रतिनिधिमंडल चुनाव आयोग से भी मिला. 

लेकिन इन सबके बीच नंदीग्राम से शुभेंदु की जीत की खबर आने के बाद हल्दिया में TMC और BJP के समर्थक आपस में भिड़ गए. TMC समर्थकों ने शुभेंदु अधिकारी के काफिले पर पत्थरबाजी कर दी. नाराज लोगों ने BJP नेता शुभेंदु के खिलाफ काउंटिंग सेंटर पर जमकर नारेबाजी की. 

इस घटना पर शुभेन्दु ने कहा कि तृणमूल बंगाल में आतंक का माहौल बनाना चाहती है. आज हल्दिया में मेरी कार पर तृणमूल के लोगों ने हमला किया. पत्थर फेंककर कार के शीशे तोड़ने का प्रयास किया. यदि आपको एक जनप्रतिनिधि के रूप में भी ऐसी घटना का सामना करना पड़ता है, तो बंगाल के आम लोगों की सुरक्षा कहां है?

आपको बता दें कि नंदीग्राम में जीत का दावा करते हुए शुभेंदु अधिकारी ने कहा है कि प्यार, विश्वास, आशीर्वाद, और समर्थन के लिए नंदीग्राम के महान लोगों को धन्यवाद. मुझे नंदीग्राम से उनके प्रतिनिधि और विधायक के रूप में चुनने के लिए बहुत-बहुत आभार. जनता की सेवा और उनके कल्याण के लिए काम करना मेरी प्रतिबद्धता है.  

गौरतलब है कि ममता इससे पहले भवानीपुर सीट से चुनाव लड़तीं थीं. लेकिन इस बार भवानीपुर छोड़कर नंदीग्राम में अपने 'जूनियर' के सामने चुनाव लड़ने का ममता बनर्जी का फैसला उल्टा पड़ गया. शुभेंदु अधिकारी ने दावा किया था कि वह सीएम ममता बनर्जी को 50 हजार वोटों से हरा देंगे. फिलहाल, हार जीत का अंतर भले ही बेहद कम रहा, लेकिन शुभेंदु ने टीएमसी की प्रचंड जीत को थोड़ा किरकिरा कर दिया है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें