scorecardresearch
 

Unnao Rape case: पीड़िता की हालत अभी भी गंभीर, वकील कोमा में

डॉक्टरों की रिर्पोट के आधार पर एम्स की ओर से बताया गया कि पीड़िता की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है. इसीलिए उन्हें वेंटिलेटर पर ही रखा गया है.

रेप पीड़िता को अभी भी वेंटिलेटर पर ही रखा गया है (फाइल फोटो) रेप पीड़िता को अभी भी वेंटिलेटर पर ही रखा गया है (फाइल फोटो)

उन्नाव रेप केस की पीड़िता की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है. दो दिन पहले उसे एयरलिफ्ट कर दिल्ली के एम्स लाया गया था. इसके साथ ही उनके वकील की हालत में भी कोई सुधार नहीं है. वह अभी भी कोमा में हैं. मंगलवार की शाम दोनों की हालत को लेकर एम्स ने मेडिकल बुलेटिन भी जारी किया था.

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) पीड़िता की हालत को लेकर बुलेटिन जारी किया. जिसमें डॉक्टरों की रिर्पोट के आधार पर बताया गया कि पीड़िता की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है. इसीलिए उन्हें वेंटिलेटर पर ही रखा गया है. उनका ब्लड प्रेशर कंट्रोल किए जाने के प्रयास जारी हैं.

एम्स की ओर से बताया गया कि डॉक्टरों की एक विशेष टीम पीड़िता की देखरेख कर रही है. साथ ही मंगलवार को पीड़िता के वकील को भी एम्स में शिफ्ट कर दिया गया. वह अभी तक कोमा में हैं. हॉक्टरों के मुताबिक अभी भी उनकी हालत गंभीर है.

बताते चलें कि सुप्रीम कोर्ट ने पीड़िता और उनके वकील को एम्स में भर्ती किए जाने का फरमान सुनाया था. इस आदेश पीड़िता को एयरलिफ्ट करके सोमवार को एम्स लाया गया. जबकि उनके वकील को मंगलवार के दिन एम्स में शिफ्ट किया गया. 28 जुलाई को हुए हादसे के बाद इन दोनों का इलाज लखनऊ के ट्रामा सेंटर में किया जा रहा था.

उधर, उन्नाव रेप कांड के आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को भी सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर दिल्ली की तिहाड़ जेल में शिफ्ट कर दिया गया. बुधवार को इस मामले पर दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में सुनवाई हुई. जहां सीबीआई ने जज से कहा कि 4 जून 2017 को आरोपी कुलदीप सिंह सेंगर पीड़िता के साथ बलात्कार करने में शामिल था. साथ ही शशि सिंह के साजिश में शामिल होने का आरोप भी सही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें