scorecardresearch
 

उन्नाव रेप: कोर्ट ने CBI से गवाहों की सुरक्षा पर मांगी सील बंद रिपोर्ट

उन्नाव रेप केस के तीन मामलों की मंगलवार को तीस हजारी कोर्ट में सुनवाई हुई. कोर्ट ने सीबीआई को आदेश दिया है कि परिवार वालों के रहने की उचित व्यवस्था एम्स के आस-पास की जाए.

विधायक कुलदीप सिंह सेंगर (फाइल फोटो) विधायक कुलदीप सिंह सेंगर (फाइल फोटो)

उन्नाव रेप केस के तीन मामलों की मंगलवार को तीस हजारी कोर्ट में सुनवाई हुई. कोर्ट ने सीबीआई को आदेश दिया है कि परिवार वालों के रहने की उचित व्यवस्था एम्स के आस-पास की जाए. साथ ही सीबीआई से गवाहों की सुरक्षा पर सील बंद रिपोर्ट मांगी गई.

तीस हजारी कोर्ट ने गवाहों के मामले में उत्तर प्रदेश के डीजीपी को भी डायरेक्शन दिया है. साथ ही पीड़ित के वकीलों को केस से जुड़े तमाम दस्तावेज मुहैया करवाने का भी आदेश जारी किया गया है. इस मामले में विधायक कुलदीप सिंह सेंगर समेत 9 आरोपियों को पेश किया गया. एक आरोपी आमिर पेश नहीं हुआ, जिसे 8 अगस्त को पेश होने के लिए कहा गया है. इससे पहले सोमवार को उन्नाव रेप केस के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को भारी सुरक्षा के बीच दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट में लाया गया था.

बता दें कि उन्नाव रेप केस के मुख्य आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर समेत अन्य आरोपियों के ठिकानों पर सीबीआई ने छापेमारी की थी. सीबीआई की टीम ने 4 अगस्त को कुलदीप सेंगर का कच्चा चिट्ठा तलाशने के लिए घर समेत 17 ठिकानों पर छापेमारी की थी. उन्नाव रेप मामले पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था कि उन्नाव रेप मामले की सुनवाई तत्काल दिल्ली के किसी कोर्ट में कराई जाए. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें