scorecardresearch
 

उन्नाव रेप केस: पीड़िता की हालत गंभीर, मां से मिलीं स्वाति मालीवाल

उन्नाव रेप केस की पीड़िता का दिल्ली के एम्स में इलाज चल रहा है जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है. पीड़िता की मां से दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल मुलाकात की.

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाती मालीवाल ने उन्नाव पीड़िता की मां से की मुलाकात (तस्वीर-IANS) दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाती मालीवाल ने उन्नाव पीड़िता की मां से की मुलाकात (तस्वीर-IANS)

उन्नाव रेप केस की पीड़िता का दिल्ली के एम्स में इलाज चल रहा है. पीड़िता की हालत गंभीर बनी हुई है. इस बीच पीड़िता की मां से दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल मुलाकात की. मालीवाल ने पीड़िता के परिजनों को मदद का भरोसा दिलाया है.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उन्नाव रेप पीड़िता को बेहतर इलाज के लिए सोमवार को दिल्ली के एम्स लाया गया था. पीड़िता को फिलहाल एम्स के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती है, जहां उसका इलाज चल रहा है. पीड़िता की स्थिति अभी भी गंभीर बनी हुई है.

पीड़िता को एयर एंबुलेंस की मदद से रेप पीड़िता को लखनऊ से दिल्ली लाया गया था. इसके बाद इंदिरा गांधी एयरपोर्ट के टर्मिनल-1 से उसे अस्पताल पहुंचाया गया. इस दौरान दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने करीब 13 किलोमीटर का ग्रीन कॉरिडोर बना रखा था, जिसके जरिए महज 18 मिनट में पीड़िता को अस्पताल में भर्ती कराया गया.

एंबुलेंस रात 9 बजे एयरपोर्ट से चली थी और 9:18 बजे एम्स के ट्रॉमा सेंटर में पीड़िता को भर्ती करा दिया गया.

swati-maliwal_080619123540.jpgपीड़िता की मां से मिलीं स्वाती मालीवाल

पीड़िता को एम्स में दाखिल कराने का फैसला सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के बाद लिया गया. एयरोमेड एयर एंबुलेंस डॉक्टर राजेंद्र सिंह और पैरामेडिक महेंद्र सिंह के साथ लखनऊ एयरपोर्ट पर शाम 6.20 बजे उतरा और उसके बाद रात 9 बजे दिल्ली पहुंचा. पीड़िता के वकील की हालत भी नाजुक बनी हुई है.

इससे पहले भी स्वाती मालीवाल ने लखनऊ में पीड़िता मां से मुलाकात की थी. मालीवाल ने कहा था कि इस लड़ाई में वो अकेली नहीं हैं, पूरा देश उसके साथ है. स्वाती मालीवाल ने मुलाकात के बाद कहा था कि इस लड़ाई में पीड़िता अकेली नहीं है. पूरा देश उसके साथ है. उसकी सुरक्षा और ट्रीटमेंट सुनिश्चित करवाऊंगी. कोशिश करके बेहतर इलाज के लिए सभी इंतजाम दिल्ली में करवाऊंगी. अब उसके साथ और कोई साजिश ना होने पाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें