scorecardresearch
 

ओडिशा: मतदान से पहले नक्सलियों ने की चुनाव पर्यवेक्षक की हत्या

नक्सली हमला उस वक्त हुआ, जब चुनाव पर्यवेक्षक संयुक्ता दिग्गल के नेतृत्व में पोलिंग पार्टी अपने गंतव्य की ओर जा रही थी. ठीक उसी समय गोछापाड़ा में बारूदी सुरंग में विस्फोट हुआ. पोलिंग पार्टी वहां रुक गई. तभी नक्सलियों ने चुनाव पर्यवेक्षक पर गोली चला दी.

पुलिस मामले की छानबीन कर रही है ( सांकेतिक तस्वीर) पुलिस मामले की छानबीन कर रही है ( सांकेतिक तस्वीर)

ओडिशा के कंधमाल में नक्सलियों ने एक निर्वाचन अधिकारी को मौत के घाट उतार दिया. वहां गुरुवार को दूसरे चरण का मतदान हो रहा है. मतदान से ठीक एक दिन पहले यानी बुधवार को चुनाव पर्यवेक्षक संयुक्ता दिग्गल को कंधमाल के गोछापाड़ तहसील के बालांदापाड़ा में नक्सलियों ने गोली मार कर उनकी हत्या कर दी.

नक्सली हमला उस वक्त हुआ, जब चुनाव पर्यवेक्षक संयुक्ता दिग्गल के नेतृत्व में पोलिंग पार्टी अपने गंतव्य की ओर जा रही थी. ठीक उसी समय गोछापाड़ा में बारूदी सुरंग में विस्फोट हुआ. जिसकी वजह से पोलिंग पार्टी वहां रुक गई.और तभी नक्सलियों ने चुनाव पर्यवेक्षक दिग्गल पर गोली चला दी.

उस समय चुनाव पर्यवेक्षक संयुक्ता दिग्गल गाड़ी से बाहर आकर सड़क पर खड़ी थीं. नक्सलियों की गोली दिग्गल के सिर में गोली लगी, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गईं. उन्हें फौरन जिला अस्पताल ले जाया गया, लेकिन वहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

हालांकि इस घटना में पोलिंग पार्टी के अन्य सदस्य जान बचाने में सफल रहे. इसके बाद नक्सलियों ने पोलिंग पार्टी के काफिले में शामिल वाहनों को आग के हवाले कर दिया. इससे कुछ समय पहले नक्सलियों ने फिरिंगिया के मुंगुनिपाड़ा में निर्वाचन अधिकारियों को ले जाने वाले एक वाहन में आग लगा दी थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें