scorecardresearch
 

छत्तीसगढ़: चुनाव ड्यूटी से लौट रहे BSF जवानों पर नक्सली हमला

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित इलाकों में बम्पर वोटिंग की बौखलाहट में माओवादियों ने चुनावी ड्यूटी से लौट रहे BSF जवानों के ट्रक को निशाना बनाकर IED विस्फोट कर ट्रक उड़ा दिया.

घटनास्थल की तस्वीर घटनास्थल की तस्वीर

छत्तीसगढ़ में नक्सली इलाकों में विधानसभा चुनाव का पहला चरण खत्म होने के बाद लौट रहे जवानों पर नक्सलियों ने घात लगाकर IED से हमला बोल दिया. अपने ऊपर हुए अचानक हमले से बचते हुए BSF के जवानों ने साहस का परिचय दिया और घटना स्थल से अपने साथियों की जान बचाने में कामयाब रहे.

इस हमले में नक्सलियों ने IED ब्लास्ट कर BSF का एक ट्रक उड़ा दिया, जिसमें BSF के चार जवान और दो स्थानीय नागरिक बुरी तरह से घायल हो गए. हादसे के तुरंत बाद BSF के जवानो ने मोर्चा लिया और नक्सलियों पर जवाबी कार्रवाई शुरू की, मौका पाते ही नक्सली मौका-ए-वारदात से भाग निकले.   

घटना बीजापुर के कोड़ेपाल की बताई जा रही है. जानकारी के मुताबिक सुबह 9 बजे बीजापुर से 5 किलोमीटर दूर CRPF 35 बटालियन कैंप के पास यह घटना घटी. जब BSF के जवान वाहन से चुनावी ड्यूटी खत्म कर वापस लौट रहे थे, तभी नक्सलियों ने IED विस्फोट कर उनका ट्रक उड़ा दिया.

इस हमले में ट्रक के परखच्चे उड़ गए, जबकि एक नागरिक समेत 6 BSF के जवान घायल हो गए. BSF की 414वीं बटालियन के चार जवान के अलावा एक DRG और ट्रक ड्राइवर इस हमले में घायल हो गया. घायल जवानों में ASI नरेश सिंह, कांस्टेबल भगवान सिंह, कांस्टेबल निरंजन सिंह, कांस्टेबल आलोक सिंह और गणपति वसन के नाम शामिल हैं.

एंटी नक्सल ऑपरेशन के डीजीपी डी.एम. अवस्थी के मुताबिक जिस प्रकार से बस्तर में मतदाओं ने में बढ़चढ़कर मतदान में हिस्सा लिया उसी की बौखलाहट में नक्सलियों ने घटना को अंजाम दिया. उन्होंने बताया कि चुनाव संपन्न कराने के लिए सवा लाख जवानों को लगाया गया था. उन्होंने कहा कि जवान ट्रक में बैठकर लौट रहे थे, तभी नक्सलियों ने IED ब्लास्ट कर दिया. सभी घायलों का प्राथमिक उपचार कर दिया गया है और वे खतरे से बाहर हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें