scorecardresearch
 

नोएडा में बैठकर अमेरिका में ठगी, साइबर गिरोह का हुआ पर्दाफाश

इस गिरोह के लोग पहले तो कंप्यूटर में वायरस भेजते फिर उसे हटाने के लिए मोटी रकम वसूल रहे थे. अब तक 6 लोग गिरफ्तार किए गए हैं और 2 फरार हैं.

ठगी गिरोह के गिरफ्तार सदस्य (फोटो-अनुज मिश्रा) ठगी गिरोह के गिरफ्तार सदस्य (फोटो-अनुज मिश्रा)

नोएडा में एक ऐसे फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़ हुआ है जो विदेशों में कंप्यूटर में वायरस भेज कर उनसे लाखों रुपए की ठगी करता था. यह कॉल सेंटर पहले अमेरिका और कनाडा के लोगों के कंप्यूटर में इंटरनेट से वायरस भेज कर और उसके बाद खुद ही ठीक करने के नाम पर उनसे 99 डॉलर से 600 डॉलर तक ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करवाता था. इसकी सूचना पुलिस और साइबर सेल को मिलते ही इस फर्जी कॉल सेंटर पर दबिश देकर 6 लोगों को मौके से पुलिस ने गिरफ्तार किया है. इनके पास से 7 लैपटॉप और कॉल सेंटर चलाने का सामान बरामद किया है. यह पूरा फर्जी कॉल सेंटर नोएडा के सेक्टर-2 में चलाया जा रहा था और यहां बैठे लोग विदेशों में ठगी करते थे.

नोएडा के थाना सेक्टर-20 पुलिस ने एक ऐसे फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़ किया है जो नोएडा के सेक्टर-2 में फर्जी कॉल सेंटर चला कर अमेरिका और कनाडा के लोगों के कंप्यूटर में वायरस भेज कर खुद एंटीवायरस देने के नाम पर ठगी करते थे.

पुलिस के मुताबिक, जब ये लोग विदेश के लोगों को कॉल करते हैं तो फर्जी कंपनी INGEVEN का नाम बताते हैं. इस फर्जी कंपनी ने वेबसाइट पर अमेरिका का फर्जी पता डाल रखा है. गिरफ्तार लोग लगभग 6 महीनों से इसी तरह लोगों के साथ वायरस के नाम पर ठगी करते थे. इस फर्जी कॉल सेंटर की सूचना जैसे ही नोएडा पुलिस और साइबर सेल को मिली तो पुलिस ने कॉल सेंटर पर दबिश देकर 6 लोगों को मौके से गिरफ्तार किया. दो लोग फरार बताए जा रहे हैं. इनके पास से भारी मात्रा में कॉल सेंटर चलाने का सामान बरामद किया गया है. पुलिस के मुताबिक यह गिरोह अब तक कई लोगों के साथ ठगी कर चुका है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें