scorecardresearch
 

प्रेमिका का पति बन रहा था अवैध संबंध में बाधा, प्रेमी ने कर दी हत्या

दिल्ली के अलीपुर में हाईवे के पास दो सप्ताह पहले एक लाश मिला थी. उस शख्स का बेरहमी से कत्ल किया गया था. तभी से पुलिस कातिल की तलाश में जुटी थी और आखिरकार पुलिस ने हत्या की इस गुत्थी को सुलझा ही लिया. पुलिस ने हत्या के आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार किया है. हत्या में इस्तेमाल किया गया चाकू भी पुलिस ने बरामद कर लिया है.

पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है

दिल्ली के अलीपुर में हाईवे के पास दो सप्ताह पहले एक लाश मिला थी. उस शख्स का बेरहमी से कत्ल किया गया था. तभी से पुलिस कातिल की तलाश में जुटी थी और आखिरकार पुलिस ने हत्या की इस गुत्थी को सुलझा ही लिया. पुलिस ने हत्या के आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार किया है. हत्या में इस्तेमाल किया गया चाकू भी पुलिस ने बरामद कर लिया है.

पुलिस के मुताबिक बीती 7 जून की सुबह पुलिस को एनएच-1 पर अलीपुर के पास एक शख्स की लाश मिली थी. पुलिस को मृतक के गले पर कटे के निशान मिले थे. शुरूआत में मामला एक्सिडेंट का लग रहा था क्योंकि खून के निशान हाईवे पर भी मौजूद थे और मृतक के घुटने छिले हुए थे.

लेकिन जिस तरह से उसके गले पर कट लगे थे, उससे पुलिस को शक हुआ कि यह हत्या का मामला हो सकता है. इस मामले को सुलझाने के लिए अलीपुर के एसीपी रजनीश ने एक टीम बनाई. जिसमें अलीपुर के एसएचओ सुरेश कुमार, एडिशनल एसएचओ सतीश कुमार, एसआई जयवीर, एएसआई नरेश राणा, कांस्टेबल जयदीप आदि को शामिल किया गया.

टीम ने जांच शुरू की तो मृतकी पहचान 40 वर्षीय सुरेंद्र ईश्वर के रूप में हुई. जांच में खुलासा हुआ कि मामला हत्या का ही है. इस वारदात को अंजाम देने वाले सुरेंद्र के ही दो साथी निकले. पुलिस ने दोनों को आजादपुर से गिरफ्तार कर लिया. गहन पूछताछ के बाद हत्या का यह मामला सुलझ गया.

दरअसल, एक आरोपी का मृतक की पत्नी के साथ अफेयर चल रहा था. पूछताछ में सामने आया कि सुरेंद्र ईश्वर दिल्ली में सिक्योरिटी गार्ड का काम करता था. इसी दौरान उसकी पत्नी से आरोपी विनय यादव के अवैध संबंध हो गए. लंबे समय से उनका अफेयर चल रहा था. विनय को लगता था कि सुरेंद्र उन दोनों के नाजायज रिश्तों के बीच अड़चन है.

इसलिए उसने 6 जून की रात ईश्वर को हाईवे के पास बुलाया. जहां विनय यादव और उसका एक साथी सतीश पहले से मौजूद थे. ईश्वर जैसे ही वहां पहुंचा, आरोपियों ने चाकू से गला रेतकर उसकी हत्या कर दी. इसके बाद उन दोनों हत्या को हादसे की शक्ल देने के लिए ईश्वर की लाश को हाईवे पर घसीटा ताकि पुलिस को लगे कि मामला सड़क हादसे का है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें