scorecardresearch
 

दिल्ली: पीट-पीटकर युवक की हत्या करने वाले कांस्टेबल समेत 2 गिरफ्तार, 3 आरोपी फरार

पुलिस के मुताबिक यह मामला रोड रेज का है. जिसके चलते दिल्ली पुलिस के कांस्टेबल मोनू सिरोही ने अपने 2 साथियों के साथ मिलकर हत्या की इस वारदात को अंजाम दिया था.

आरोपी कांस्टेबल मोनू को अरेस्ट कर लिया गया है आरोपी कांस्टेबल मोनू को अरेस्ट कर लिया गया है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कांस्टेबल मोनू सिरोही ने दिया था वारदात को अंजाम
  • अजीत की लाश को गंग नहर में लगाया था ठिकाने
  • आरोपी कांस्टेबल साथी समेत गिरफ्तार

दिल्ली में मामूली कहासुनी के बाद युवक की पीट-पीटकर हत्या करने वाले पुलिस कांस्टेबल समेत 2 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. जबकि इनके 3 आरोपी साथी अभी फरार हैं. आपको बता दें कि आज तक के पास उस युवक की पिटाई का वीडियो भी मौजूद है. जिसमें कांस्टेबल और उसके साथी युवक को पीटते हुए नजर आ रहे हैं.

पुलिस के मुताबिक यह मामला रोड रेज का है. जिसके चलते दिल्ली के कांस्टेबल ने अपने 2 साथियों के साथ मिलकर हत्या की वारदात को अंजाम दिया था. यह मामला 4 और 5 जून की रात का बताया जा रहा है. आरोपी कांस्टेबल का नाम मोनू सिरोही है. वह पांडव नगर थाने में तैनात है. आजतक के हाथ लगे वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि उसका न्यू अशोक नगर इलाके में अजीत और अनिल के साथ झगड़ा हुआ था.

सूत्रों के मुताबिक जब कांस्टेबल मोनू अपने दोस्तों के साथ कार से जा रहा था. तभी सड़क पर पैदल जा रहे अजीत के साथ उसकी कहासुनी हुई थी. फिर ये कहासुनी मार-पिटाई तक जा पहुंची. वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि कांस्टेबल मोनू सिरोही और उसके साथी अजीत के साथ मार पिटाई कर रहे हैं. इस दौरान अजीत का साथी अनिल वहां से बचकर भाग निकला था.

इसे भी पढ़ें-- धनबाद के जज की संदिग्ध मौत हादसा नहीं मर्डर, पढ़ें इनसाइड स्टोरी

मार-पिटाई के बाद अजीत को मोनू सिरोही और उसके साथी अपनी कार में डालकर ले जाते हैं. तभी उसकी मौत हो जाती है. इसके बाद पुलिस कांस्टेबल और उसके साथी अजीत की लाश को गंग नहर में फेंक देते हैं. वारदात के बाद से अब तक पुलिस को अजीत की लाश नहीं मिली है. मोनू सिरोही के 3 आरोपी साथी अभी फरार हैं. पुलिस उनकी तलाश कर रही है.

वीडियो में पीट रहे लड़के के परिवार ने 13 जून को दिल्ली के नई अशोक नगर थाने में अजीत की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी, लेकिन न्यू अशोक नगर थाने के एसएचओ ने 24 घंटे बीत जाने के बावजूद किडनैपिंग की एफआईआर दर्ज नहीं की थी. अब वीडियो सामने आने के बाद पुलिस कांस्टेबल मोनू सिरोही और उसके दूसरे साथी को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उधर, इस मामले में न्यू अशोक नगर के एसएचओ को भी सस्पेंड कर दिया गया है. 

जांच में खुलासा हुआ है कि पुलिस कांस्टेबल मोनू सिरोही ने अपने इन साथियों के साथ इस लड़के को इतना पीटा की उसकी मौत हो गई, फिर लाश को मेरठ के पास गैंग नहर में ठिकाने लगा दिया. डीसीपी ईस्ट प्रियंका कश्यप ने आज तक/इंडिया टुडे को पुष्टि की है कि कांस्टेबल को गिरफ्तार कर लिया गया है, जांच जारी है. उन्होंने इसके आगे कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें