scorecardresearch
 

VIP मूवमेंट की वजह से एंबुलेंस को नहीं दिया रास्ता, डॉक्टरों ने ट्रैफिक कांस्टेबल को लगाई फटकार

हैदराबाद के व्यस्त मसाब टैंक इलाके से राज्य के गृह मंत्री और डीजीपी गुजरने वाले थे जिस वजह से वहां ट्रैफिक कांस्टेबल और पुलिस रास्ते को ट्रैफिक मुक्त बनाए रखने में लगी हुई थी. इस दौरान वहां भारी जाम लग गया जिसमें दो एंबुलेंस फंस गई.

सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • VIP मूवमेंट की वजह से पुलिस ने नहीं दिया रास्ता
  • एंबुलेंस से उतरकर डॉक्टर ने कांस्टेबल को फटकारा

इस देश में वीआईपी कल्चर को खत्म करने का वादा कई बार किया जा चुका है लेकिन सच्चाई ये है कि इस वजह से कई बार लोगों की जान तक चली जाती है. लेकिन हैदराबाद में एक वीआईपी मूवमेंट के दौरान एंबुलेंस के फंसने पर डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ ने जो किया वो जानकर आप हैरान रह जाएंगे.

दरअसल हैदराबाद के व्यस्त मसाब टैंक इलाके से राज्य के गृह मंत्री और डीजीपी गुजरने वाले थे जिस वजह से वहां ट्रैफिक कांस्टेबल और पुलिस रास्ते को ट्रैफिक मुक्त बनाए रखने में लगी हुई थी. इस दौरान वहां भारी जाम लग गया जिसमें दो एंबुलेंस फंस गई.

इन एंबुलेंस के डॉक्टरों ने गाड़ी से उतरकर ट्रैफिक कांस्टेबल को मरीज की स्थिति और गंभीरता समझाने की कोशिश की और उसे रास्ता देने को कहा लेकिन वो अपनी ड्यूटी करता रहा. इससे दोनों एंबुलेंस में मौजूद डॉक्टर और स्टाफ इस कदर खफा हो गए कि उन्होंने उस ट्रैफिक कांस्टेबल को जमकर फटकार लगाई. अब इस घटना का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है.

घटना के बाद सड़क पर फंसे हुए अन्य वाहनों ने एंबुलेंस को आगे बढ़ने के लिए रास्ता दिया. घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद लोग इस तरह के वीआईपी कल्चर पर सवाल उठा रहे हैं.

बता दें कि डीजीपी और गृह मंत्री चंद्रयानगुट्टा उस मार्ग से थाने के नए भवन के उद्घाटन समारोह में शामिल होने जा रहे थे.

ये भी पढ़ें:
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें