scorecardresearch
 

UP: बैंक मित्र हत्याकांड में चौंकाने वाला खुलासा, प्रेमिका के लिए दोस्त ने की थी हत्या

हरदोई देवमनपुर गांव के रहने वाले पंकज का शव 11 नवंबर को गांव से कुछ दूर कौशिया गांव में प्राइमरी स्कूल के पास पीछे जंगलों में पड़ा मिला था. पंकज सहज जन सेवा केंद्र चलाने के साथ-साथ बैंक ऑफ इंडिया में बैंक मित्र भी था. परिवारवालों के मुताबिक उसकी किसी से दुश्मनी नहीं थी. 11 नवंबर की शाम को वह जन सेवा केंद्र बंद कर घर वापस आ रहा था. तभी रास्ते में इस वारदात को अंजाम दिया गया.

(सांकेतिक तस्वीर) (सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शराब पिलाने के बहाने दोस्त को बुलाया
  • प्रेमिका से नजदीकियां नहीं थी पसंद
  • हत्या के बाद लैपटॉप और मोबाइल भी लूटा

उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में बैंक मित्र की हत्या के मामले में पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा ​किया है. 11 नवंबर को हुए इस हत्याकांड में पुलिस ने बैंक मित्र के दोस्त को गिरफ्तार किया है. इस हत्या की वजह लूटपाट नहीं, बल्कि दोस्त की प्रेमिका से बढ़ती नजदीकी थी. ये नजदीकियां दोस्त को नागवार गुजरीं, जिसके चलते उसने धोखे से बैंक मित्र को बुलाया और मौत के घाट उतार दिया.

ये थी घटना 
देवमनपुर गांव के रहने वाले पंकज का शव 11 नवंबर को गांव से कुछ दूर कौशिया गांव में प्राइमरी स्कूल के पास पीछे जंगलों में पड़ा मिला था. पंकज सहज जन सेवा केंद्र चलाने के साथ-साथ बैंक ऑफ इंडिया में बैंक मित्र भी था. परिवारवालों के मुताबिक उसकी किसी से दुश्मनी नहीं थी.

देखें: आजतक LIVE TV 

11 नवंबर की शाम को वह जन सेवा केंद्र बंद कर घर वापस आ रहा था. तभी रास्ते में इस वारदात को अंजाम दिया गया. पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद मामले की छानबीन शुरू कर दी थी. हालांकि पुलिस इस हत्याकांड के पीछे की वजह लूटपाट मान रही थी, लेकिन मामला कुछ और ही निकला है. 

ये थी हत्या की असली वजह
पुलिस ने इस मामले में बैंक मित्र पंकज के दोस्त अमित को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बताया कि आरोपी अमित एक लड़की से प्रेम करता है. उस लड़की से पंकज भी नजदीकियां बढ़ा रहा था. अमित की प्रेमिका से उसकी मोबाइल पर बात भी होती थी. जब इसकी जानकारी अमित को हुई, तो उसने कई बार पंकज को समझाया भी, लेकिन पंकज नहीं माना.

इसके बाद अमित ने पंकज की हत्या की साजिश रची. उसने शराब पिलाने के बहाने से पंकज को बुला लिया. जैसे ही पंकज ने शराब पी और उसे नशा हुआ, तो अमित ने बका (धारदार हथियार) से उस पर हमला कर दिया. उसके सिर पर अमित ने कई वार किये. पंकज की हत्या करने के बाद उसने नकदी, लैपटॉप और मोबाइल भी लूट लिया और मौके से फरार हो गया. पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर लूटी गई नकदी, लैपटॉप और धारदार हथियार भी बरामद कर लिया है.

ये भी पढ़ें-

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें