scorecardresearch
 

तेलंगाना: घर से आ रही थी तेज दुर्गंध, पुलिस ने मारा छापा तो फ्रिज से निकली बुजुर्ग की लाश

पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा और युवक को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस को छानबीन में पता चला कि मरने वाला बुजुर्ग शख्स कोई और नहीं बल्कि पकड़े गए युवक निखिल के दादा थे. जिनकी उम्र करीब 93 साल थी.

पुलिस हर पहलू से इस मामले की जांच कर रही है पुलिस हर पहलू से इस मामले की जांच कर रही है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पड़ोसियों ने की थी पुलिस से शिकायत
  • सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची थी पुलिस
  • मृतक के पोते को पुलिस ने हिरासत में लिया

तेलंगाना के वारंगल जिले में बेहद हैरान करने वाला मामला सामने आया है, जहां पुलिस ने शिकायत मिलने पर जब एक घर पर छापेमारी की तो वहां एक बुजुर्ग की लाश फ्रिज से बरामद की गई. पुलिस ने ये छापेमारी पड़ोसियों की शिकायत पर की. दरअसल, कई दिनों से पास पड़ोस वालों उस घर से तेज दुर्गंध आ रही थी. परेशान होकर लोगों ने पुलिस से शिकायत की. 

दिल दहला देने वाली यह घटना वारंगल जिले के परकल इलाके की है. जहां एक मकान से पड़ोसियों को बदबू आ रही थी. जब दुर्गंध तेज हो गई तो पास-पड़ोस के लोगों को शक हुआ. इसके बाद उन लोगों ने इस बात की जानकारी स्थानीय पुलिस को दी. पुलिस मौके पर पहुंची और उस घर पर छापा मारा. घर में निखिल नाम का एक युवक अकेला मौजूद था.

युवक पुलिस को देखकर सकपका गया लेकिन उसने कुछ नहीं कहा. पुलिस ने पूरे घर की तलाशी ली, लेकिन कुछ  नहीं मिला. तभी सर्कल इंस्पेक्टर महेंद्र रेड्डी की नजर घर में रखे फ्रिज पर पड़ी. जैसे ही उन्होंने फ्रिज खोला अंदर का मंजर देखकर वो हैरान रह गए. फ्रिज के अंदर एक लाश थी, वो इंसान की. जो सड़ चुकी थी. उसी से तेज बदबू आ रही थी.

ज़रूर पढ़ें-- मुंबई कोर्ट ने कहा- विवाहित जीवन में जबरन सेक्स को अवैध नहीं कहा जा सकता, पति को दी जमानत

पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा और युवक को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस को छानबीन में पता चला कि मरने वाला बुजुर्ग शख्स कोई और नहीं बल्कि पकड़े गए युवक निखिल के दादा थे. जिनकी उम्र करीब 93 साल थी. निखिल ने पुलिस को बताया कि बीमारी के चलते उसके दादा की मौत कुछ दिन पहले ही हो गई थी. उसके माता-पिता भी इस दुनिया में नहीं हैं. कोई अंतिम संस्कार करने वाला नहीं था. ना ही उसके पास क्रियाक्रम के लिए पैसे थे. इसलिए उसने उनकी लाश को घर के फ्रिज में रख दिया था. 

पुलिस के मुताबिक मकान किराए का है. जिसमें बुजुर्ग अपने पोते निखिल के साथ रहते थे. एक सड़क हादसे में माता-पिता की मौत हो जाने से ही निकिल डिप्रेशन में चल रहा था. उसकी दिमागी हालत भी ठीक नहीं है. हालांकि पुलिस इस मामले को संदिग्ध  मानकर इसकी जांच कर रही है. अब पुलिस को बुजुर्ग की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार है.

(हैदराबाद से आशीष पांडे का इनपुट)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें