scorecardresearch
 

समलैंगिक संबंध से परेशान युवक ने लगाई फांसी, सुसाइड नोट में लिखा- 'अगला जन्म लेकर आपसे मिलूंगा...'

खुद के साथ जबरदस्ती समलैंगिक संबंध बनाए जाने से आहत बीस वर्षीय युवक ने जान दे दी. मृतक ने सुसाइड नोट छोड़ा है. उसने पड़ोस में रहन वाले नाबालिग पर शोषण करने के आरोप लगाए हैं. जिस नाबालिग का सुसाइड नोट में जिक्र है, वो भी मंगलवार सुबह से गायब है. पुलिस नाबालिग की तलाश कर रही है.

X
 ग्वालियर का हजीरा पुलिस थाना ( फाइल फोटो ) ग्वालियर का हजीरा पुलिस थाना ( फाइल फोटो )

मध्यप्रदेश के ग्वालियर में युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. उसकी लाश फंदे पर लटकती देखकर हड़कंप मच गया. मृतक ने मरने से पहले एक सुसाइड नोट छोड़ा है. इसमें उसने समलैंगिक संबंध की बात लिखी है. साथ ही अपनी मां के लिए लिखा है कि ''अगला जन्म लेकर आपसे मिलूंगा.''

घटना शहर के हजीरा स्थित तिकोनिया पार्क कांचमील की है. यहां रहने वाले 20 वर्षीय मेकअप आर्टिस्ट ने सुसाइड किया है. परिवारवालों ने बताया कि मंगलवार की शाम को बेटा घर आया, तो सीधे अपने कमरे में चला गया. हमें लगा कि वो थका हुआ है, तो किसी ने उसे डिस्टर्ब नहीं किया. 

देर रात जब उसके कमरे में गए, तो वो फांसी के फंदे पर लटका हुआ था. सुसाइड की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची हजीरा थाना पुलिस को मृतक के कमरे से सुसाइड नोट मिला.

"मैं बदला लेकर खुद की जान दे रहा हूं"

सुसाइड नोट में लिखा है, ''पास ही रहने वाले 15 साल के लड़के ने मेरे साथ गलत काम किया. वो मेरा शोषण कर रहा था. ब्लैकमेल कर रहा था कि उसकी बात नहीं मानी, तो फंसा देगा. वह मुझसे लगातार पैसे ले रहा था. मैं अपनी बात किसी को इसलिए नहीं बता पा रहा था क्योंकि लड़का मुझसे उम्र में छोटा था और कोई मुझ पर विश्वास नहीं करेगा. इससे काफी परेशान हो चुका हूं. अब मैं अपना बदला लेकर खुद की जान दे रहा हूं.''

मृतक ने सुसाइड नोट में आगे अपने माता-पिता के लिए लिखा है, ''अगला जन्म लेकर आपसे मिलूंगा''.

जिस लड़के का जिक्र, वह भी है लापता
सुसाइड नोट में मृतक ने जिस नाबालिग का जिक्र किया था, वह भी घर से लापता है. जब पुलिस नाबालिग के घर पहुंची, तो पता चला कि वो भी मंगलवार सुबह 11 बजे गायब है. नाबालिग का मोबाइल भी घर पर ही है. लापता नाबालिग के परिजनों ने हजारा थाने में उसके अपहरण की शिकायत दर्ज कराई है.

मामले की गंभीरता को देखते हुए हजीरा थाना प्रभारी रवि भदौरिया ने नाबालिग की तलाश के लिए चार टीमें बनाई हैं. उनका कहना है कि मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया गया है. सुसाइड नोट की भी जांच की जा रही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें