scorecardresearch
 

24 बार देखी हॉरर फिल्म 'अरुंधति', 'मुक्ति' सीन से प्रेरित होकर युवक ने खुद को लगाई आग

हॉरर फिल्म 'अरुंधति' से प्रेरित होकर खुद पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा ली. गंभीर हालत में युवक को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उसकी मौत हो गई. युवक ने कथित तौर पर एक वीडियो भी बनाया था, जिसमें उसने पिता से कहा था कि आत्मदाह करने के बाद उसे मुक्ति मिलेगी.

X
20 लीटर पेट्रोल छिड़क कर लगाई आग (सांकेतिक तस्वीर) 20 लीटर पेट्रोल छिड़क कर लगाई आग (सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 24 बार देखी हॉरर फिल्म 'अरुंधति'
  • 'मुक्ति' सीन को देख खुद को लगाई आग
  • बीच में ही छोड़ दी थी 12वीं कक्षा की पढ़ाई

कर्नाटक से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. तुमकुरु जिले में तेलुगू हॉरर फिल्म ‘अरुंधति’ से प्रेरित होकर एक युवक ने अपनी जान दे दी. अपनी जीवन लीला समाप्त करने के लिए उसने खुद पर 20 लीटर पेट्रोल डालकर आत्मदाह करने की कोशिश की थी, जिसके बाद वह गंभीर रूप से झुलस गया था. घायल को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया. 

एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक, युवक ने कथित तौर पर एक वीडियो भी रिकॉर्ड किया, जिसमें उसने पिता से कहा था कि आत्मदाह करने के बाद उसे मुक्ति मिलेगी. मामला मधुगिरी तालुक के एक गांव का है. यहां एक 23 साल के रेणुका प्रसाद ने लगभग 24 बार तेलुगू हॉरर फिल्म ‘अरुंधति’ देखी थी.

युवक के माता-पिता ने बताया कि उन्होंने बेटे को ऐसा करने से कई बार रोका भी, लेकिन उसने कभी किसी की नहीं सुनी. यहां तक कि युवक ने 12वीं कक्षा की पढ़ाई भी बीच में ही छोड़ दी थी.

सूत्रों के मुताबिक, जिस तरह फिल्म के मुख्य किरदार को आत्मदाह के बाद मुक्ति मिली, रेणुका को भी लगा कि अगर वह भी वही करे तो उसे भी मुक्ति मिल जाएगी. इसलिए उसने गांव के बाहरी इलाके में 20 लीटर पेट्रोल छिड़ककर खुद को आग के हवाले कर दिया.

पुलिस ने बताया कि जब रेणुका ने खुद को आग के हवाले किया, तब वहां से गुजर रहे कुछ राहगीरों ने उसे देख लिया. आग में झुलसे युवक को पहले नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे विक्टोरिया अस्पताल रेफर कर दिया गया. बुधवार को युवक की मौत हो गई. डॉक्टरों ने बताया कि युवक आग लगने के कारण 60 प्रतिशत तक जल चुका था. उसकी हालत बेहद नाजुक थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें