scorecardresearch
 

झारखंड के DGP बोले- हथियारों से लैस अपराधियों को मार गिराएं, पुलिस को डरने की जरूरत नहीं

डीजीपी एमवी राव ने पुलिसकर्मियों को सिंघम भी बनने की नसीहत देते हुए कहा किसी से डरो नहीं. पुलिस को किसी से भी डरने की जरूरत नहीं है. अपराध पर अंकुश लगाने के लिए अपराधियों को पकड़ कर जेल में भरें या फिर उनको मार गिराएं.

दुमका में पुलिस अफसरों को संबोधित करते राज्य के डीजीपी एमवी राव (फोटो-मृत्युंजय) दुमका में पुलिस अफसरों को संबोधित करते राज्य के डीजीपी एमवी राव (फोटो-मृत्युंजय)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • किसी भी सूरत में अपराधियों पर लगाम लगाने की नसीहत दी
  • अपराधियों को जेल में भरें या फिर उनको मार गिराएंः DGP
  • DGP एमवी राव ने दुमका में दिया पुलिसकर्मियों को गुरु मंत्र

झारखंड में बेलगाम होते अपराध पर कड़ाई से लगाम लगाने के लिए सूबे के डीजीपी एमवी राव ने कड़ा रूख अख्तियार करते हुए पुलिस अफसरों को निर्देश दिया है कि वे हथियारों से लैस अपराधियों को मार गिराएं, उन पर किसी तरह का कोई रहम नहीं करें. पुलिस को किसी से भी डरने की जरूरत नहीं है. 

दरअसल, डीजीपी एमवी राव ने अपराध और अन्य मामलों पर राज्य की उप राजधानी दुमका में बैठक की. बैठक में पुलिस के कई आला अधिकारी उपस्थित थे. बैठक में अपराध पर लगाम लगाने के लिए डीजीपी ने स्पष्ट दिशा-निर्देश दिया. उन्होंने किसी भी सूरत में अपराधियों पर लगाम लगाने की नसीहत दी.

दुमका में पुलिस पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक में झारखंड के डीजीपी एमवी राव ने कहा कि हथियारों से लैस अपराधियों को मार गिराएं, उन पर किसी तरह का कोई रहम नहीं करें. उन्होंने कहा कि पुलिस अपराध करने वाले को मारने से घबराए नहीं.

बैठक के दौरान दुमका के शिकारीपाड़ा पत्थर औद्योगिक इलाके में मुन्ना राय नामक अपराधी द्वारा गोली मार कर व्यवसायी को घायल करने का मामला उठा. दुमका में व्यवसायियों को लगातार धमकी मिल रही थी. लगातार बढ़ते मामले में डीजीपी गंभीर हो गए और ऐसा आदेश देने को बाध्य हुए. उन्होंने पुलिस को ऐसे अपराधियों को मार गिराने का आदेश दे दिया.

दुमका में पुलिस अफसरों के साथ बैठक करते पुलिस महानिदेशक एमवी राव (फोटो-मृत्युंजय)
दुमका में पुलिस अफसरों के साथ बैठक करते पुलिस महानिदेशक एमवी राव (फोटो-मृत्युंजय)

डीजीपी राव ने पुलिसकर्मियों को सिंघम भी बनने की नसीहत देते हुए कहा किसी से डरो नहीं. पुलिस को किसी से भी डरने की जरूरत नहीं है. अपराध पर अंकुश लगाने के लिए अपराधियों को पकड़ कर जेल में भरें या फिर उनको मार गिराएं. 

देखें: आजतक LIVE TV

डीजीपी एमवी राव यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा कि अपराधियों को उसी की भाषा में जवाब देंगे और कठोर तरीके से पेश आएंगे. अपराधियों ने तांडव किया तो उन्हें मार भी गिराएंगे. उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें ना राजनीति और ना ही जाति धर्म से मतलब है. लोगों की सेवा करना ही पुलिस का धर्म है. जान माल की रक्षा करना ही पुलिस का काम है.

उन्होंने अपील करते हुए यह भी कहा कि पुलिस को राजनीति से ना जोड़ें. राजनीति से उनका कोई सरोकार नहीं है और ना ही वह राजनीति से घबराते हैं. डीजीपी राव ने कहा कि राज्य की पुलिस का काम कानून व्यवस्था को बेहतर बनाना है. अपराध पर नियंत्रण करना है. साथ ही पुलिसकर्मियों का मनोबल भी हमेशा बढ़ा रहे इसका प्रयास होना चाहिए.

राज्य के पुलिस महानिदेशक एमपी राव ने यह भी कहा कि पुलिस पर जनता का विश्वास बना रहे इसके लिए उसे अपनी कार्यशैली में भी बदलाव करने की जरूरत है लोगों को बेहतर और जल्द से जल्द समस्या का समाधान पुलिसकर्मियों को करना चाहिए.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें