scorecardresearch
 

नगरोटा एनकाउंटरः पढ़ें जैश के चार आतंकियों के खात्मे की Inside Story

जम्मू-कश्मीर के नगरोटा इलाके में एनकाउंटर के दौरान गुरुवार सुबह सुरक्षा बलों ने एक ट्रक में जा रहे चार आतंकवादियों को मार गिराया. पुलिस ने बताया कि पुलिस, सीआरएफ और सेना के साथ बान टोल प्लाजा जम्मू में एक मुठभेड़ में चार आतंकवादी मारे गए.

नगरोटा इलाके में एनकाउंटर के दौरान मुस्तैद जवान (फोटो-PTI) नगरोटा इलाके में एनकाउंटर के दौरान मुस्तैद जवान (फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कश्मीर की तरफ जा रहे जैश के चार आतंकी ढेर
  • ट्रक से बड़े पैमाने पर गोला-बारूद बरामद किया गया
  • इलाके में बड़े पैमाने पर सर्च ऑपरेशन भी जारी

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने एक और हिमाकत की लेकिन सुरक्षाबलों के शौर्य और साहस के आगे उनकी कायराना साजिश नाकाम साबित हुई. जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में सुरक्षा बलों ने ट्रक में छिपकर आ रहे जैश-ए-मोहम्मद के चार दहशतगर्दो को गुरुवार को मौत के घाट उतार दिया, और इस तरह सुरक्षा बलों ने पाकिस्तान की बड़ी साजिश नाकाम कर दी.

यह एनकाउंटर उस समय शुरू हुआ जब नरगोटा में टोल प्लाजा पर सीआऱपीएफ और पुलिस के जवानों ने एक ट्रक को चेकिंग के लिए रोका. असल में, खुफिया इनपुट के बाद पुलिस ने नरगोटा इलाके में सुरक्षा व्यवस्था सख्त कर दी थी और हर नाके पर गाड़ियों की जबरदस्त चेकिंग चल रही थी. इसी दौरान श्रीनगर-जम्मू हाइवे पर सुबह 4.20 बजे के आसपास कश्मीर की तरफ बढ़ रहे एक ट्रक को पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों ने चेकिंग के लिए रोका. लेकिन चेकिंग के दौरान रोकते ही ट्रक का ड्राइवर उतर कर भाग गया. 

शक होने पर इसके बाद सुरक्षा बलों ने जब ट्रक की चेकिंग की तो उसमें छिपे आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी. फायरिंग के बाद आतंकी जंगल की तरफ भागे. सुरक्षा बल के जवानों ने आतंकियों का पीछा किया. जवाबी कार्रवाई की. जाबांज जवानों की करीब तीन घंटे की कार्रवाई में चारों आतंकी मार गिराए गए. मुठभेड़ के दौरान गोलीबारी से ट्रक में आग लग गई. उसमें भारी मात्रा में गोला-बारूद भरा हुआ था.

दूर तक सुनी गई धमाकों की आवाज

गोला बारूद भरे ट्रक में एनकाउंटर के दौरान आग लगने की वजह से कई धमाके हुए. धमाकों की आवाज दूर तक सुनी गई. बताया जा रहा है कि आतंकियों का डीडीसी चुनाव में गड़बड़ी पैदा करने का इऱादा था. फिलहाल, सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर रखी है. एनकाउंटर के दौरान जम्मू श्रीनगर हाइवे को बंद किया गया था. इस दौरान काफी तादाद में गाड़ियां फंसी रहीं. 

11 एके सीरीज की राइफल बरामद

सुरक्षाबलों ने बताया कि यह एनकाउंटर सुबह 4.20 बजे उस दौरान शुरू हुआ था, जब एक ट्रक को टोल प्लाजा के पास रोकने की कोशिश की गई. एनकाउंटर में चार आतंकी मार गिराये गए हैं और उनके पास से 11 एके सीरीज की राइफल बरामद की गई है. उक्त एरिया में सुरक्षाबलों का सर्च ऑपरेशन अब भी जारी है. वहीं जम्मू-कश्मीर पुलिस के आईजी ने बताया कि खुफिया इनपुट पर चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था. एक ट्रक की तलाशी शुरू करने पर फायरिंग शुरू हो गई. यह एनकाउंटर 3 घंटे तक चला. ऑपरेशन को पुलिस, सीआरपीएफ और आर्मी की यूनिट ने दिया अंजाम.

नरगोटा में मुस्तैद जवान (फोटो-PTI)

देखें: आजतक LIVE TV

जम्मू के आईजी मुकेश सिंह ने बताया कि हमें सूचना मिली थी आतंकी घुसपैठ की फिराक में हैं. पिछली घटनाओं और खुफिया जानकारी के बाद सभी नाकों को अलर्ट किया गया था. सभी नाकों पर पुलिस और सीआरपीएफ के जवान मौजूद थे. इस दौरान जब आज तड़के ट्रक को रोका गया और ड्राइवर को उतारा गया तो वह फरार हो गया. शक हुआ तो ट्रक की तलाशी ली गई. तलाशी के दौरान आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी. फिर भागने लगे. 

आईजी मुकेश सिंह ने बताया कि एनकाउंटर के दौरान बड़े पैमाने पर फायरिंग हुई. सुरक्षाबलों पर ग्रेनेड से हमले की कोशिश की गई. इस दौरान हमारे दो कांस्टेबल जख्मी हो गए. घायल पुलिसकर्मी खतरे से बाहर हैं. एनकाउंटर में चार आतंकी मारे गए. इनकी शिनाख्त अभी नहीं हो पाई है. इन चारों आतंकियों से भारी मात्रा में असलहा और बारूद बरामद हुआ है. इसमें 11 AK 47 राइफल, तीन पिस्तौल, 29 ग्रेनेड, 6 UBGL ग्रेनेड, मोबाइल फोन, और अन्य कई सारे उपकरण बरामद किए गए हैं.
 

जैश के आतंकी ढेर

जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने 'आजतक' से बातचीत में कहा कि जैश-ए-मोहम्मद के चार आतंकवादियों के एक समूह ने बुधवार रात सांबा में अंतरराष्ट्रीय सीमा से भारत में घुसपैठ की थी. वे जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाइवे के जरिये एक ट्रक से जा रहे थे, जिसे पुलिस ने नगरोटा के पास एक टोल प्लाजा पर रोक दिया. खुफिया सूचना के बाद सुरक्षाबल मुस्तैद थे.

हालांकि इस मुठभेड़ में चार पुलिसकर्मी भी मामूली रूप से घायल हो गए. एनकाउंटर खत्म हो चुका है. इलाके को सैनिटाइज किया जा रहा है. संदिग्ध गतिविधियों को देखते हुए इलाके में बड़े पैमाने पर सर्च ऑपरेशन भी जारी है.

चुनाव में खलल डालना चाहता पाक

वहीं कश्मीर के आईजी विजय कुमार ने बताया कि पाकिस्तान की कोशिश है कि आगामी चुनाव में खलल डाला जाए. सभी 4 आतंकवादियों को मार गिराया गया है. आतंकियों का मकसद कश्मीर में चुनाव में खलल डालना था. जम्मू-कश्मीर पुलिस सुरक्षा बलों के साथ मिलकर आतंकियों से निपटने में मुस्तैद है. हम उम्मीदवारों को सामूहिक सुरक्षा मुहैया करा रहे हैं. 
 

ये भी पढ़ें


 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें