scorecardresearch
 
क्राइम न्यूज़

सूरत: सिर्फ केनरा बैंक के ATM लूटते थे ये बदमाश, पुलिस के जाल में ऐसे फंसे

केनरा बैंक के एटीएम से पैसे उड़ाने वाला दो शातिर बदमाशों को पुलिस ने पकड़ा
  • 1/5

सूरत पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो सिर्फ केनरा बैंक की एटीएम मशीन को ही अपना निशाना बनाता था. बताया जा रहा है कि केनरा बैंक के एटीएम मशीन को डी बोल्ट नाम की एक कंपनी बनाती है. इस मशीन से पैसे कैसे निकाले जाएं इसका तोड़ इन शातिर बदमाशों को पता चल गया था. 


(इनपुट- संजय सिंह राठौर)
(फोटो- आजतक)

केनरा बैंक के एटीएम से पैसे उड़ाने वाला दो शातिर बदमाशों को पुलिस ने पकड़ा
  • 2/5

इस गिरोह का सरगना अनपढ़ है लेकिन अब तक एटीएम से 20 लाख रुपये निकाल चुका है. सूरत पुलिस ने दोनों आरोपी हनीफ सैयद और औसाफ हसन मोहम्मद सैयद को शहर के नानपुरा इलाके से गिरफ्तार किया है. एक आरोपी 6 और दूसरा तीसरी क्लास तक ही पढ़ा है. ये शातिर चोर सिर्फ केनरा बैंक के डी बोल्ट कंपनी के एटीएम को ही निशाना बनाते थे.

केनरा बैंक के एटीएम से पैसे उड़ाने वाला दो शातिर बदमाशों को पुलिस ने पकड़ा
  • 3/5

पुलिस ने बैंक के अधिकारियों से साफ कहा है कि चोरी से बचने के लिए डी बोल्ट कंपनी के लगे सभी एटीएम को जल्द ही बदल दिया जाए.  क्राइम ब्रांच ने आरोपियों को पास से 4 डेबिट कार्ड, 2 मोबाइल और समेत एक लाख 10 हजार का सामान मिला है. पूछताछ में आरोपियों ने सूरत के इच्छापोर, अठवालाइंस और अडाजण थाना क्षेत्र के केनरा बैंक के ATM से चोरी कबूली है.  

(प्रतीकात्मक फोटो)
  • 4/5

यह मामला तब सामने आया जब शहर में बैंक ठगी और साइबर क्राइम के मामले बढ़ने फिर पुलिस ने जांच शुरू की. इसी बीच केनरा बैंक के चार ATM का बैलेंस गड़बड़ होने पर जांच की गई. पुलिस ने क्रॉस वेरिफिकेशन किया फिर डेबिट और क्रेडिट कार्ड की जांच और फोटो से आरोपियों की पहचान कर ली गई. 

केनरा बैंक के एटीएम से पैसे उड़ाने वाला दो शातिर बदमाशों को पुलिस ने पकड़ा
  • 5/5

जांच के दौरान पुलिस को दो आरोपियों की लोकेशन नानपुर में दिखी फिर केनरा बैंक के एटीएम के पास जाल बिछाया गया. यहां दो लोग संदिग्ध अवस्था में घूमते नजर और पुलिस ने इन्हें धर लिया. कड़ाई से पूछताछ के बाद सारे राज इन शातिर चोरों ने खोल दिये.

इस गिरोह के तीनों प्रमुख आरोपी साजिद, इरफान और जहीर पुलिस की गिरफ्त से फरार हैं. पुलिस ने तीनों को पकड़ने के लिए टीमें बनाई हैं. पुलिस का कहना है कि ये बदमाश मेवाती गिरोह के सदस्य हैं. जो देशभर में फ्रॉड और चोरी के लिए देशभर में कुख्यात हैं.