scorecardresearch
 

फ्लिपकार्ट के डिलीवरी ब्वॉय ने चीटिंग कर उड़ाए 50 हजार रुपये, अपनाई ये ट्र‍िक

त्योहार के दिनों में ऑनलाइन खरीदारी करने वाले हो जाएं सावधान... द‍िल्ली में एक साइबर क्राइम का मामला सामने आया है जिसमें आरोप है क‍ि फ्लिपकार्ट के डिलीवरी ब्वॉय ने चीटिंग करके एक व्यक्ति के अकाउंट से लगभग 50 हजार रुपये उड़ा लिए. फिलहाल शिकायतकर्ता के आधार पर थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और चीटिंग के इस गोरखधंधे की जांच की जा रही है.

Representative image Representative image
स्टोरी हाइलाइट्स
  • फ्लिपकार्ट से भेजा सामान पसंद नहीं आया तो डाली बदलने की र‍िक्वेस्ट
  • डिलीवरी ब्वॉय ने बहला-फुसलाकर कर अनोखी ट्र‍िक से उड़ाए 50 हजार रुपये

दीपावली धमाका...बंपर सेल... 50% तक डिस्काउंट... त्योहार आते ही ऑनलाइन शॉपिंग करने के लिए हर तरफ सेल और ऑफर लगाए गए हैं. अगर आपको भी ऑनलाइन शॉपिंग करनी है, तो इस खबर को जरूर देखें और सतर्क हो जाएं क्योंकि कंपनी के डिलीवरी ब्वॉय कहीं आपको भी हजारों का चूना ना लगा दें.

हैरान कर देने वाली ऐसी वारदात दक्षिणी दिल्ली के पॉश इलाके वसंत विहार में हुई. सरोज कुमार यादव वसंत विहार की एक कोठी में रहते हैं और वहीं काम भी करते हैं. सितंबर के महीने में फ्लिपकार्ट से इन्होंने दो समान की अलग-अलग शॉपिंग की थी. दोनों ही समान इनको पसंद नहीं थे, लिहाजा उन्होंने फ्लिपकार्ट पर उसे एक्सचेंज करने के लिए रिक्वेस्ट डाली.

रिक्वेस्ट डालने के बाद सरोज कुमार यादव के पास फ्लिपकार्ट का डिलीवरी ब्वॉय आता है और उससे एक सामान वापस मांगता है. पीड़ित ने कहा कि उन्होंने सामान को रिटर्न करने का रिक्वेस्ट नहीं किया था लेकिन डिलीवरी ब्वॉय ने बहला-फुसलाकर कहा कि आपका एक ऑर्डर रिटर्न होगा और पैसा आपके अकाउंट में आ जाएगा जबकि पीड़ित ने कहा कि जब मेरी अकाउंट डिटेल फ्लिपकार्ट के पास नहीं है तो पैसा वापस कैसे आएगा? 

इस ट्र‍िक से द‍िया झांसा 

ऐसे में उनको डिलीवरी बॉय ने बहला-फुसलाकर कहा कि अगर आपके पास पैसा नहीं आएगा तो आप मुझे कॉल कर लीजिएगा. फिर उसके बाद वह एक ऑर्डर लेकर वहां से चला गया. कुछ दिनों बाद दूसरा डिलीवरी ब्वॉय सामान एक्सचेंज करने के लिए आया. पीड़ित ने कहा कि उनका पहले वाला सामान का पेमेंट अभी तक नहीं आया उसके लिए क्या करना होगा. दूसरे डिलीवरी ब्वॉय ने पीड़ित से पहले डिलीवरी ब्वॉय की बात कराई. पहले वाले डिलीवरी ब्वॉय ने पीड़ित को एक नंबर दिया और बोला आप इस नंबर पर कॉल करके अपनी समस्या बता दीजिए, आपको पैसा मिल जाएगा.

पीड़ित ने जब उस नंबर पर कॉल किया फिर उसके बाद उस नंबर वाले ने दूसरा नंबर दिया और बोला यह हमारे सीनियर का नंबर है, इनसे बात करके आपका पैसा मिल जाएगा. पीड़ित ने उस दूसरे नंबर पर जब बात की तो उधर से बोलने वाले  व्यक्ति ने खुद को फ्लिपकार्ट का एम्प्लॉयी बताकर पीड़ित को बहला-फुसलाकर पेमेंट लेने के लिए एनीडेस्क एप्ल‍िकेशन डाउनलोड करने के लिए कहा. उसके बाद डेबिट कार्ड को कैमरे के सामने रखने को कहा जबकि पीड़ित को कैमरे की कोई भी तस्वीर उस एप्लीकेशन में नहीं दिख रही थी लेकिन सामने वाले के पास पीड़ित के कार्ड का सारा डिटेल चला गया और कुछ ही देर में पीड़ित से अकाउंट से लगभग 40 हजार रुपये से गायब हो गए और उसके थोड़ी देर बाद लगभग 10 हजार रुपये गायब हो गया.

केस दर्ज कर ल‍िया है, इन सावधा‍न‍ियों को रखकर फ्रॉड से बचें 

सरोज कुमार की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है और कार्रवाई भी शुरू कर दी है. अब जरूरत है क‍ि त्योहारों के सीजन में खरीदारी करने वाले लोग बेहद सतर्क रहें. अपनी कॉन्फिडेंस‍ियल जानकारी जैसे अपने कार्ड का पिन, पर्सनल ओटीपी ड‍िटेल किसी से भी न शेयर करें. साथ ही किसी भी तरह की एप्लीकेशन को डाउनलोड ना करें, न ही डिलीवरी ब्वॉय या अन्य द्वारा दिए गए लिंक पर क्लिक करें क्योंकि ध्यान रहे आपकी एक क्लिक / लापरवाही आपकी गाढ़ी  कमाई चुटकियों में खत्म कर सकती है. लिहाजा अपने पैसे को सुरक्षित रहने के लिए हमेशा सतर्क रहें ताकि ऑनलाइन खरीदारी के साथ-साथ आप अपने त्योहारों को भी खुशी-खुशी मनाएं. 

इनपुट-द‍िल्ली से अमरदीप कुमार की र‍िपोर्ट 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें