scorecardresearch
 

केरल में फिर लौटा वीकेंड लॉकडाउन, कोरोना के बढ़ते कहर का असर

कोरोना वायरस के तेज़ी से बढ़ते हुए मामलों के बीच केरल सरकार ने एक बार फिर सख्त कदम उठाने शुरू किए हैं. राज्य में वीकेंड पर सख्ती बरकरार रखी जाएगी और संपूर्ण लॉकडाउन लगाया जाएगा.

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच फैसला (फाइल फोटो) कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच फैसला (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • केरल में जारी है कोरोना वायरस का कहर
  • वीकेंड पर सख्त लॉकडाउन लगाने का फैसला

कोरोना वायरस के तेज़ी से बढ़ते हुए मामलों के बीच केरल (Kerala) सरकार ने एक बार फिर सख्त कदम उठाने शुरू किए हैं. राज्य में वीकेंड पर सख्ती (Weekend Lockdown) बरकरार रखी जाएगी और संपूर्ण लॉकडाउन लगाया जाएगा. इस बार 31 जुलाई और 1 अगस्त को पूरी तरह से लॉकडाउन लगाया जाएगा.

केरल सरकार की ओर से जानकारी दी गई है कि राज्य में शनिवार और रविवार को सख्ती रखी जाएगी. इसके अलावा जो छूट दी गई हैं, वो सिर्फ सोमवार से शुक्रवार तक लागू रहेंगी. वीकेंड पर राज्य में संपूर्ण लॉकडाउन रहेगा. हालांकि, इस दौरान किताबों की प्रिटिंग से जुड़े लोग कामकाज कर सकेंगे. 

केरल में ये फैसला तब लिया गया है जब पिछले कुछ दिनों में तेजी से कोरोना के केस बढ़ने लगे हैं. अभी हाल ही में ईद पर राज्य सरकार ने नियमों में ढील दी थी, जिसके बाद अचानक ही नए केस तेज़ी से बढ़े हैं.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में जो नए केस आ रहे हैं उनमें से पचास फीसदी केरल से ही आ रहे हैं. अब केंद्र सरकार की ओर से 6 सदस्यों की एक टीम राज्य में भेजी जा रही है. जो राज्य के हालात का जायजा लेगी और राज्य सरकार के साथ मिलकर काम करेगी.

देश में कोरोना वायरस के इस वक्त 3.97 लाख एक्टिव केस हैं, इनमें से करीब 1.49 लाख एक्टिव केस सिर्फ केरल से ही हैं. केरल के कई जिले ऐसे हैं, जहां पिछले कुछ दिनों में अचानक नए केस की संख्या दोगुना हो गई है.  

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें