scorecardresearch
 

फतेहाबाद: आइसोलेशन वार्ड से मां ने 3 बार की भागने की कोशिश, असम में फंसा है बच्चा

लॉकडाउन के दौरान हरियाणा में फतेहाबाद के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती मां अपने 2 साल के बच्चे के लिए तीन बार भागने का प्रयास कर चुकी है. महिला, असम की रहने वाली है लेकिन उसे यहां आकर बेचा जा रहा था. जब वह उनके चंगुल से भागी तो यहां फंस गई.

आइसोलेशन वार्ड में भर्ती महिला (वीडियो ग्रैब) आइसोलेशन वार्ड में भर्ती महिला (वीडियो ग्रैब)

  • आइसोलेशन सेंटर से तीन बार भागने की कोशिश कर चुकी महिला
  • फतेहाबाद में फंसी थी महिला, असम में रह गया था 2 साल का बेटा

हरियाणा में फतेहाबाद के एक आइसोलेशन सेंटर से असम की रहने वाली महिला तीन बार भागने का प्रयास कर चुकी है. चूंकि, महिला की भाषा किसी की समझ में नहीं आ रही थी तो कोई ये समझ में नहीं पा रहा था कि वह भाग क्यों रही है. जब उसकी भाषा समझने वाले एक लड़के से बात कराई तो सामने आया कि यहां से सैकड़ों किलोमीटर दूर उसका दो साल का बेटा है और वह यहां फंस गई है.

तीसरी बार भागने के लिए महिला, आइसोलेशन वार्ड के बाथरूम में मौजूद रोशनदान से कूदकर तीसरी मंजिल पर बने छज्जे पर पहुंच गई थी. गनीमत रही कि डॉक्टरों की टीम ने उसे देख लिया. फिर छज्जे से नीचे उतारा गया. महिला के इस प्रयास से उसकी जान को खतरा भी हो सकता था.

असमंजस में है हॉस्पिटल का प्रबंधन

महिला की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी है लेकिन महिला अभी तक आइसोलेशन वार्ड में ही भर्ती है. स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन महिला को लेकर कोई उचित फैसला नहीं ले पा रहा है कि उसे कहां भेजा जाए? फिलहाल इस मामले में फतेहाबाद स्वास्थ्य विभाग के डिप्टी सीएमओ ने उपायुक्त को पत्र लिखकर महिला को उसके घर वापस भेजने के लिए मार्गदर्शन मांगा है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

फतेहाबाद के डिप्टी सीएमओ डॉक्टर हनुमान सिंह ने बताया कि पहले तो उन्हें महिला की भाषा ही समझ नहीं आई. इसके बाद उनके द्वारा 14 साल के असम के रहने वाले एक लड़के से महिला की बात करवाई गई और उसकी भाषा समझी गई. महिला ने बताया कि उसका 2 वर्ष का बच्चा है जिससे वह मिलना चाहती है. उसे असम भेज दिया जाए.

महिला को पति ने ही बेचा

डिप्टी सीएमओ को महिला ने बताया कि उसके पति और उसके दोस्त ने उसे 1 लाख 20 हजार रुपये में बेच दिया था. पति उसे खरीदने वाले के पास लेकर जा रहा था तभी सिरसा के गांव डिंग मंडी पर वह गाड़ी से उतर कर भाग गई. उसके बाद वह फतेहाबाद के गांव पीली मंदोरी पहुंची और जहां से स्वास्थ्य कर्मचारियों को सूचना मिलने पर इस महिला को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

महिला के कोरोना को लेकर सैंपल लिए गए थे जिसकी रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी है. डिप्टी सीएमओ डॉक्टर हनुमान ने बताया कि अपने 2 साल के बेटे के लिए यह महिला तीन बार भागने का प्रयास कर चुकी है. फिलहाल उनके द्वारा फतेहाबाद के उपायुक्त को पत्र लिख कर महिला को उसके घर भेजने के लिए मार्गदर्शन मांगा जा रहा है. उपायुक्त के आदेश आने के बाद आगामी कार्यवाही स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जाएगी. तब तक महिला को आइसोलेशन वार्ड में ही रखा गया है और पूरी निगरानी के बीच रखा गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें