scorecardresearch
 

दिल्ली में क्यों और कैसे बेलगाम होता गया कोरोना, जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट?

बुधवार को दिल्ली में 131 लोगों की मौत हुई थी. राजधानी में एक दिन में कोरोना से होने वाली मौत के मामलों का यह नया रिकॉर्ड है.

दिल्ली में क्यों बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले (फाइल फोटो) दिल्ली में क्यों बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दिल्ली में संक्रमितों की कुल संख्या 5,10,630 हुई
  • त्योहारी सीजन में फिर दिख रहा है कोरोना का प्रकोप
  • पिछले 24 घंटे में 98 और कोरोना मरीजों की गई जान

दिल्ली में कोरोना से मौत का आंकड़ा 8 हजार के पार चला गया है. बीते 24 घंटे में 98 अन्य मरीजों की जान चली गई है. त्योहारी सीजन में दिल्ली में फिर से कोरोना का प्रकोप दिख रहा है. 98 लोगों की मौत के साथ ही मौत का आंकड़ा 8,041 हो गई है. इससे पहले बुधवार को दिल्ली में 131 लोगों की मौत हुई थी. राजधानी में एक दिन में कोरोना से होने वाली मौत के मामलों का यह नया रिकॉर्ड भी है. इससे पहले दिल्ली सरकार की 12 नवंबर को जारी हेल्थ बुलेटिन में 24 घंटे में 104 लोगों की मौत हुई थी. ऐसे में सवाल उठता है कि दिल्ली में कोरोना बेलगाम क्यों होता जा रहा है?

एलएनजेपी (लोक नारायण जयप्रकाश) अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर डॉ. सुरेश कुमार कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए कहते हैं कि त्योहारी सीजन को देखते हुए भीड़ बढ़ गई है. इतना ही नहीं ये भीड़ कोरोना के बीच अपनाई जाने वाली सामान्य नॉर्म्स को भी फॉलो नहीं कर रही है. इसी वजह से हाल के दिनों में एक बार फिर से कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं. 

उन्होंने बताया कि प्रदूषण की वजह से भी कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं. इसके अलावा दिल्ली में सबसे अधिक कोरोना टेस्टिंग हो रही है. इसलिए भी यहां ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. जहां तक मृत्यु दर की बात है तो वह राष्ट्रीय मृत्यु दर के बराबर ही है.  

देखें: आजतक LIVE TV

दिल्ली मेडिकल काउंसिल (डीएमसी) के सचिव डॉ. गिरीश त्यागी के मुताबिक त्योहार और बाजार बढ़ते हुए कोरोना के लिए सबसे अधिक जिम्मेदार है. इसके साथ ही लोग बाहर निकलते हुए मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग जैसे सामान्य नॉर्म्स फॉलो नहीं कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि सरकार लोगों को जागरूक कर रही है. इसके बावजूद उन्हें वित्तीय और चिकित्सा स्थिति के बीच बैलेंस बनाना होगा. इसके साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग को सख्ती से लागू करने पर विचार करना होगा. 

मास्क न लगाया तो 2000 का जुर्माना

इस बीच अरविंद केजरीवाल सरकार ने दिल्ली में कोरोना के आंकड़े बेतहाशा बढ़ने पर नई सख्ती की तैयारी में है. शादी में 200 मेहमानों की मिली छूट को वापस लेने के बाद अब मास्क नहीं पहनने वालों को अब 2,000 तक जुर्माना देना पड़ सकता है. मुख्यमंत्री सीएम अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल से इस बारे में बात की है. पहले मास्क ने पहनने पर 500 रुपये का जुर्माना था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें