scorecardresearch
 

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन बोले- कोरोना वैक्सीन की प्राथमिकता तय, जानें- सबसे पहले किसे मिलेगा मौका

डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि कोविड-19 वैक्सीन अगले कुछ महीनों में उपलब्ध होगी. उम्मीद है कि अगले साल की पहली तिमाही में वैक्सीन आ जाए. इसके बाद जुलाई-अगस्त तक 25-30 करोड़ लोगों के लिए 40-50 करोड़ खुराकें उपलब्ध हो जाएंगी.

स्वास्थ्य मंत्री बोले- अगस्त तक 50 करोड़ खुराकें होंगी उपलब्ध (फाइल-पीटीआई) स्वास्थ्य मंत्री बोले- अगस्त तक 50 करोड़ खुराकें होंगी उपलब्ध (फाइल-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 'कोविड-19 वैक्सीन अगले कुछ महीनों में उपलब्ध होगा'
  • अगस्त तक 40-50 करोड़ खुराकें होंगी उपलब्धः हर्षवर्धन
  • दिल्ली में कोरोना से मरने वालों की संख्या 8 हजार के पार

कोरोना संक्रमण देश ही नहीं दुनिया के कई हिस्सों में फिर से तेजी से फैलता जा रहा है. दूसरी ओर इसके बचाव के लिए वैक्सीन की खोज का काम तेजी से जारी है और कई वैक्सीन की खोज का काम भी पूरा होता दिख रहा है. दुनियाभर की सरकारें वैक्सीन को लेकर तैयारी भी शुरू कर चुकी हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि कोविड-19 वैक्सीन आते ही सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों और 65 साल से ऊपर के लोगों को प्राथमिकता के आधार पर दी जाएगी.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने वैक्सीन मिलने पर देश में सबसे पहले किसे दी जाएगी, इस पर उन्होंने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि कोरोना वैक्सीन आते ही सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों और 65 साल से ज्यादा अवस्था वाले लोगों को प्राथमिकता के आधार पर दी जाएगी. यानी एक ओर कोरोना वारियर्स और दूसरी ओर सबसे नाजुक प्रभावित आयु वर्ग को वितरण में प्राथमिकता दिया जाना स्वाभाविक है. इसलिए जब भी टीका उपलब्ध होगा तो सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों और 65 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को वरीयता दी जाएगी.

डॉ हर्षवर्धन ने 'फिक्की एफएलओ' यानी महिला उद्यमियों की ओर से आयोजित वेबिनार 'कोविड के दौरान और उसके बाद बदले स्वास्थ्य प्रतिमान' में कहा कि कोविड-19 वैक्सीन अगले कुछ महीनों में उपलब्ध होगी. उम्मीद है कि अगले साल की पहली तिमाही में वैक्सीन आ जाए. इसके बाद जुलाई-अगस्त तक 25-30 करोड़ लोगों के लिए 40-50 करोड़ खुराकें उपलब्ध हो जाएंगी.

देखें: आजतक LIVE TV

इस बीच राजधानी दिल्ली में पिछले 24 घंटे में 98 और लोगों की मौत के साथ ही मौत का आंकड़ा 8 हजार पार कर गया. अब यह संख्या 8,041 तक पहुंच गई है. कल बुधवार को ही दिल्ली में एक दिन में रिकॉर्ड 131 लोगों की मौत हुई थी. इससे पहले दिल्ली सरकार की 12 नवंबर को जारी हेल्थ बुलेटिन में 24 घंटे में 104 लोगों की मौत हुई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें