scorecardresearch
 

Income Tax बचाने का ये तरीका जानते हैं आप? HRA के साथ Home Loan पर भी मिलती है छूट

अगर आप नौकरीपेशा हैं तो आपको सैलरी में एक हिस्सा हाउस रेंट एलाउंस (HRA) का मिलता होगा. Income Tax Act के तहत सैलरी के इस हिस्से पर आपको टैक्स छूट मिलती है. लेकिन क्या आपको पता है कि आप इसके साथ-साथ Home Loan पर भी टैक्स बचत कर सकते हैं...

X
Income Tax बचाने का ये तरीका जानते हैं आप (Photo : Getty) Income Tax बचाने का ये तरीका जानते हैं आप (Photo : Getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आयकर कानून में HRA नहीं होता टैक्स-फ्री
  • सेक्शन-10(13A) के तहत मिलती HRA पर छूट

अगर आप नौकरीपेशा हैं तो आपको सैलरी में एक हिस्सा हाउस रेंट एलाउंस (HRA) का मिलता होगा. Income Tax Act के तहत सैलरी के इस हिस्से पर आपको टैक्स छूट मिलती है. लेकिन क्या आपको पता है कि आप इसके साथ-साथ Home Loan पर भी टैक्स बचत कर सकते हैं...

HRA नहीं है टैक्स-फ्री

आपकी सैलरी में एक कंपोनेंट के तौर पर मिलने वाला HRA असल में टैक्स-फ्री नहीं होता है. लेकिन अगर आप रहने के लिए घर का किराया चुकाते हैं, तो आप HRA पर कर छूट का लाभ उठा सकते हैं. आयकर कानून की धारा-10(13A) एचआरए पर मिलने वाली टैक्स छूट के बारे में बताती है. लेकिन क्या आप अपने टैक्स बोझ को और कम करना चाहते हैं तो आगे दी गई जानकारी आपके काम की हो सकती है.

इसे भी देखें : होम लोन लिया है तो अपनाएं ये 5 तरीके, कम हो सकता है EMI का लोड 

HRA के साथ Home Loan पर टैक्स छूट ?

Suresoft Tax Professionals के चीफ कंसल्टेंट प्रभाकर गुप्ता का कहना है कि इनकम टैक्स की धारा-24(b) के प्रावधानों के हिसाब से आप Home Loan के अधिकतम 2 लाख रुपये के ब्याज पर कर छूट ले सकते हैं. जबकि लोन के मूल धन को चुकाने के लिए दी जाने वाली EMI पर आपकी धारा-80C के तहत Tax Saving होती है. इस धारा के तहत आप बीमा, बचत इत्यादि पर अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक की रकम पर बचा सकते हैं.

इसे भी देखें : रेजिडेंशियल या कमर्शियल, जानें कौन-सी प्रॉपर्टी खरीदना ज्यादा फायदेमंद? 

रही बात क्या आप HRA के साथ-साथ Home Loan के ब्याज पर मिलने वाली टैक्स छूट का लाभ उठा सकते हैं. Taxbuddy के फाउंडर सुजीत बांगर का कहना है कि किसी भी करदाता के साथ ऐसी परिस्थिति सामने आ सकती है, जब वो खुद किराये के घर में रह रहा हो और उसके लिए उसे HRA मिल रहा हो. साथ ही उस समय में अपने किसी खरीदे गए फ्लैट या घर के Home Loan की किस्त चुका रहा हो. आयकर कानून ऐसी स्थिति में दोनों स्तर पर कर छूट का लाभ उठाने की अनुमति देता है.

हालांकि इस तरह के मामलों में आयकर विभाग काफी करीबी निगरानी रखता है, लेकिन अगर आपके डॉक्यूमेंट सही हैं और आपने उचित तरीके से टैक्स छूट ली है, तो डरने की कोई जरूरत नहीं. बाकी इस बारे में आप अपने कर सलाहकार से विस्तृत चर्चा कर सकते हैं. 

ये भी पढ़ें: 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें