scorecardresearch
 
यूटिलिटी

प्रॉपर्टी खरीदने का अभी सही समय, फेस्टिव सीजन में हो सकते हैं ये 7 फायदे!

नवरात्रि में लें नया घर
  • 1/8

हमारे यहां देश में नवरात्रि से फेस्टिव सीजन शुरू होता है. इस दौरान लोग नई गाड़ी और मकान लेना शुभ मानते हैं. इस त्यौहारी मौसम में अगर आप मकान लेने या प्रॉपर्टी में निवेश करने का प्लान कर रहे हैं तो आपको ये 7 फायदे हो सकते हैं. जानें इनके बारे में...
 

Home Loan की ब्याज दरें सबसे नीचे
  • 2/8

जब भी घर खरीदने की बात आती है, तो सबसे पहले नजर होम लोन और उसके ब्याज पर जाती है. हाल में भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने अपनी मौद्रिक नीति घोषित की और रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया. इसका मतलब होम लोन की ब्याज दरों में कोई बड़ा बदलाव नहीं होने जा रहा है. वहीं इस समय अधिकतर बैंकों के होम लोन पर 6.5 फीसदी की दर से ब्याज लग रहा है. ऐसे में अभी ग्राहकों को सबसे कम Interest Rate पर Home Loan मिल रहा है.

Home Loan पर प्रोसेसिंग चार्जेस छूट
  • 3/8

इस समय सिर्फ Home Loan की ब्याज दरें ही निचले स्तर पर नहीं हैं. बल्कि फेस्टिव सीजन की वजह से SBI से लेकर HDFC, HDFC Bank, ICICI Bank, PNB समेत लगभग सभी बैंक और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियां कई ऑफर्स दे रही हैं. इनमें से कई ऑफर दिसंबर तक रहने वाले हैं. इन ऑफर्स में प्रोसेसिंग शुल्क से छूट शामिल है जो कई मामलों में 50,000 रुपये तक हो सकती है.

फेस्टिव सीजन में डेवलपर दे रहे ऑफर्स
  • 4/8

नवरात्रि के साथ ही डेवलपर्स और रियल एस्टेट कंपनियां ग्राहकों को कई सारे ऑफर्स देना शुरू कर देती हैं. इस दौरान ग्राहकों को डाउनपेमेंट से जुड़े कई ऑफर्स से लेकर पार्किंग एवं अन्य चार्जेज में छूट, घरों में एसी, टीवी और फर्नीचर इत्यादि की फुल फर्निशिंग, मॉड्यूलर किचन इत्यादि मुफ्त में लगाने की पेशकश की जाती है. वहीं लकी ड्रॉ स्कीम्स में बंपर इनाम जीतने का मौका अलग से रहता है, जो साल के बाकी दिनों में नहीं मिलता है.

महिलाओं के लिए स्पेशल ऑफर्स का फायदा
  • 5/8

भारतीय परिवारों में अक्सर महिलाओं के नाम पर घर खरीदने की परंपरा देखी जाती है. वहीं कामकाजी महिलाओं को बैंकों की तरफ से होम लोन पर अतिरिक्त लाभ मिलता है. इसलिए डेवलपर्स भी ज्यादा महिला ग्राहकों को रिझाने के लिए स्पेशल छूट देते हैं. इसके अलावा सरकार भी महिलाओं के नाम रजिस्ट्री करवाने पर स्टैम्प ड्यूटी में छूट देती है. ऐसे में घर पर पत्नी, मां या किसी अन्य महिला सदस्य के नाम पर घर खरीदकर एक से दो लाख रुपए तक फायदा अलग से प्राप्त किया जा सकता है. (Photo : Getty)

इस समय स्थिर हैं प्रॉपर्टी के दाम
  • 6/8

रियल एस्टेट सेक्टर की सेल्फ रेग्युलेटरी बॉडी नारेडको (Naredco) के प्रेसिडेंट राजन बंदेलकर का कहना है कि 2021 की शुरुआत में अचानक घरों की मांग बढ़ने से इनकी कीमतों में कुछ तेजी दर्ज की गई थी. लेकिन उसके बाद कोविड की दूसरी लहर के बाद तीसरी लहर की बढ़ती आशंका से घर खरीदने वाले ग्राहकों की संख्या कम हुई तो इनके दामों में फिर से स्थिरता आ गई. ऐसे में ग्राहकों के लिए ये सही मौका है कि वो प्रॉपर्टी के दाम फिर बढ़ने से पहले अभी निवेश कर लें.  कोविड के काबू आते ही देशभर के बाजारों में घरों की मांग एक बार फिर से बढ़ सकती है, तब निश्चित तौर पर डेवलपर्स भी घरों के दाम बढ़ा सकते हैं.

कंस्ट्रक्शन की कीमतों में कमी
  • 7/8

बंदेलकर का कहना है कि पिछले करीब एक माह में स्टील आदि की कीमतों में भी कमी आई है. कई डेवलपर्स इस कमी का लाभ ग्राहकों तक भी पहुंचा रहे हैं. वहीं कुछ अन्य कंस्ट्रक्शन मैटेरियल्स की कीमतों में भी कमी आई है जिसका फायदा खुद का घर बनवा रहे लोग भी उठा सकते हैं. इसके अलावा अभी बारिश का सीजन भी जा चुका है और गर्मी भी कम हुई है, इस लिहाज से ये अपनी मनपसंद प्रॉपर्टी ढूंढने का सही वक्त भी है. अभी हाउसिंग प्रोजेक्ट की तरफ जाने वाले रास्तों की असल तस्वीर भी सामने आ जाएगी और अगर फ्लैट वगैरह में सीलन की कोई समस्या है तो सेल्स एग्जीक्यूटिव बरसात का बहाना भी नहीं बना पाएंगे.

उठाएं सरकारी योजनाओं का लाभ
  • 8/8

केंद्र सरकार की अभी भी कई हाउसिंग योजनाएं लागू हैं. इसमें ग्राहकों को होम लोन के ब्याज पर छूट के साथ-साथ नया घर खरीदने को लेकर कई तरह की सब्सिडी का लाभ भी मिल रहा है. ऐसे में ग्राहक इन सभी सरकारी योजनाओं को लाभ उठा सकते हैं. वहीं कोविड के असर से प्रॉपर्टी बाजार को उबरने में मदद के लिए कई राज्य सरकारें स्टाम्प शुल्क में छूट, सब्सिडी और अन्य शुल्क में डिस्काउंट का लाभ भी ग्राहकों को दे रही हैं.