scorecardresearch
 

Delhivery IPO: खुल गया इस साल का दूसरा सबसे बड़ा आईपीओ, होगी कमाई या डूबेंगे पैसे?

डिलीवरी कंपनी का यह आईपीओ 5,235 करोड़ रुपये का है. साइज के हिसाब से यह साल 2022 का अब तक का दूसरा सबसे बड़ा आईपीओ है. कंपनी ने इस आईपीओ के लिए 462 रुपये से 487 रुपये का प्राइस बैंड तय किया है. इसके एक लॉट में 30 इक्विटी शेयर हैं.

X
ओपन हुआ आईपीओ (Photo: Delhivery) ओपन हुआ आईपीओ (Photo: Delhivery)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बिकवाली के बाद भी लगातार आ रहे आईपीओ
  • LIC के बाद साल का दूसरा बड़ा आईपीओ

शेयर मार्केट में जारी बिकवाली (Share Market Sell Off) के बावजूद कंपनियां लगातार आईपीओ (IPO) लेकर आ रही हैं. इसी सप्ताह भारत का अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ (LIC IPO) क्लोज हुआ है. अब देश की सबसे बड़ी लॉजिस्टिक्स कंपनी Delhivery का आईपीओ बुधवार से ओपन हो गया है. यह आईपीओ (Delhivery IPO) 15 मई तक खुला रहने वाला है. इस आईपीओ को लेकर ब्रोकरेज फर्मों की राय मिली-जुली है.

लगाने होंगे कम से कम इतने रुपये

डिलीवरी कंपनी का यह आईपीओ 5,235 करोड़ रुपये का है. साइज के हिसाब से यह साल 2022 का अब तक का दूसरा सबसे बड़ा आईपीओ है. कंपनी ने इस आईपीओ के लिए 462 रुपये से 487 रुपये का प्राइस बैंड तय किया है. इसके एक लॉट में 30 इक्विटी शेयर हैं. इसका मतलब हुआ कि इस आईपीओ में किसी इन्वेस्टर को कम से कम 14,610 रुपये लगाने होंगे. कंपनी ने अपने कर्मचरियों को 25 रुपये प्रति शेयर का डिस्काउंट देने का ऐलान किया है. कंपनी के कर्मचारी कम से कम 13,860 रुपये लगाकर इस आईपीओ में हिस्सा ले सकते हैं.

इतना है हर कैटेगरी का रिजर्वेशन

Delhivery IPO का टोटल साइज 5,235 करोड़ रुपये है, जिसमें 4,000 करोड़ रुपये का फ्रेश इश्यू और 1,235 करोड़ रुपये का ऑफर फोर सेल शामिल है. कंपनी ने रिटेल इन्वेस्टर्स के लिए 10 फीसदी हिस्सा रिजर्व रखा है. आईपीओ के टोटल ऑफर का करीब 75 फीसदी हिस्सा QIB के लिए है. NII कैटेगरी के लिए कंपनी ने 15 फीसदी हिस्सा रिजर्व रखा है. अभी ग्रे मार्केट में यह आईपीओ 16 रुपये के प्रीमियम पर ट्रेड कर रहा है. शेयर मार्केट की बिकवाली के कारण इसका जीएमपी जनवरी के बाद काफी गिरा है. जनवरी में यह ग्रे मार्केट में 950 रुपये पर ट्रेड कर रहा था.

ये है ब्रोकरेज फर्मों की राय

ब्रोकरेज फर्म यस सिक्योरिटीज (Yes Securities) ने Delhivery IPO को सब्स्क्राइब रेटिंग दी है. यस सिक्योरिटीज को कंपनी के एसेट-लाइट बिजनेस मॉडल, कटिंग-एज इंजीनियरिंग और ऑटोमेशन की क्षमता पर भरोसा है. यस सिक्योरिटीज का मानना है कि इन क्वालिटीज के दम पर कंपनी के मुनाफे में आने वाले समय में सुधार दिख सकता है. वहीं एक अन्य ब्रोकरेज फर्म एंजल वन (Angel One) ने इसे न्यूट्रल रेटिंग दी है. एंजल वन का मानना है कि Delhivery IPO का वैल्यूएशन एक्सपेंसिव है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें