scorecardresearch
 

चार दिन से रॉकेट बना है Adani Wilmar का शेयर, आज भी अपर सर्किट

Adani Wilmar Share Price: आईपीओ के बाद इसका स्टॉक मार्केट में करीब 4 फीसदी के डिस्काउंट पर लिस्ट हुआ था. हालांकि इसके बाद अडानी विल्मर के स्टॉक ने रिकवरी की थी और 18 फीसदी की जबरदस्त तेजी के साथ बंद हुआ था.

X
लगातार बना रहा रिकॉर्ड
लगातार बना रहा रिकॉर्ड
स्टोरी हाइलाइट्स
  • डिस्काउंट पर लिस्ट हुआ था Adani Wilmar Stock
  • लिस्टिंग के बाद हर रोज बना रहा नया रिकॉर्ड

Adani Wilmar Share Price: शेयर मार्केट (Share Market) में अडानी विल्मर (Adani Wilmar) के स्टॉक का धुआंधार परफॉर्मेस जारी है. आज मंगलवार को जब बाजार बिकवाली और प्रॉफिट बुकिंग का शिकार होकर घाटे में है, अडानी विल्मर के स्टॉक पर तब भी अपर सर्किट लग गया है. यह लगातार चौथा ट्रेडिंग सेशन है, जब अडानी विल्मर के स्टॉक पर अपर सर्किट लगा है.

कुछ ही देर में लग गया अपर सर्किट

आज बीएसई पर अडानी विल्मर का स्टॉक पिछले दिन के 552.60 रुपये की तुलना में चढ़कर 556.90 रुपये पर खुला. शुरुआती कारोबार में इसमें गिरावट देखने को मिली और यह 553.40 रुपये तक नीचे आया. इसके बाद स्टॉक ने जबरदस्त वापसी की और कुछ ही देर में अपर सर्किट लग गया. इसके बाद लगातार यह स्टॉक अपर साइड पर बना हुआ है. दोपहर के कारोबार तक यह 4.99 फीसदी चढ़कर 580.20 रुपये पर पहुंच चुका था.

लगातार नए रिकॉर्ड बना रहा ये स्टॉक

अडानी ग्रुप का यह सबसे नया स्टॉक डिस्काउंट पर लिस्टिंग के बाद लगातार रिकॉर्ड बना रहा है. पिछले चार दिन से हर रोज इस स्टॉक पर अपर सर्किट लग रहा है और हर नए सेशन में 52 वीक का नया हाई बन जा रहा है. आईपीओ के बाद इसका स्टॉक मार्केट में करीब 4 फीसदी के डिस्काउंट पर लिस्ट हुआ था. हालांकि इसके बाद अडानी विल्मर के स्टॉक ने रिकवरी की थी और 18 फीसदी की जबरदस्त तेजी के साथ बंद हुआ था. लिस्टिंग के बाद लगातार इसपर अपर सर्किट लगा था और शुरू के 3 दिन में ही इसने 60 फीसदी की छलांग लगा दी थी.

अब तक इन्वेस्टर्स को मिला इतना रिटर्न

अडानी विल्मर का आईपीओ 27 जनवरी को खुला था और 31 जनवरी को बंद हुआ था. इसे 17 गुना से ज्यादा सब्सक्राइब किया गया था. कंपनी ने आईपीओ से पहले एंकर इन्वेस्टर्स (Anchor Investors) से 940 करोड़ रुपये जुटा लिए थे. इस आईपीओ के लिए 218 से 230 रुपये का प्राइस बैंड (Adani Wilmar IPO Price Band) तय किया गया था. कंपनी इस इश्यू से 3,600 करोड़ रुपये जुटाने में सफल रही थी. इश्यू प्राइस से कंपेयर करें तो यह स्टॉक अब तक इन्वेस्टर्स को 152 फीसदी से ज्यादा का रिटर्न दे चुका है. अभी कंपनी का एमकैप 2 गुना से भी ज्यादा बढ़कर 75 हजार करोड़ रुपये के पार जा चुका है.

शेयर मार्केट में अडानी की 7वीं कंपनी

अडानी विल्मर में गौतम अडानी (Gautam Adani) के अडानी समूह की 50 फीसदी हिस्सेदारी है. बाकी 50 फीसदी हिस्सेदारी सिंगापुर के विल्मर समूह (Wilmar Group) के पास है. यह अडानी समूह की 7वीं कंपनी है, जो शेयर मार्केट में उतरी है. अडानी समूह की अडानी एंटरप्राइजेज, अडानी ग्रीन एनर्जी, अडानी पोर्ट एंड सेज, अडानी पावर, अडानी टोटल गैस और अडानी ट्रांसमिशन पहले से ही शेयर मार्केट में लिस्टेड है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें