scorecardresearch
 
बिज़नेस न्यूज़

OLX पर ठगी के ये तीन-चार नए तरीके, 'आर्मी' वाले सेलर-बॉयर से सावधान! जानें- बचाव के सभी उपाय

OLX पर ठगी का मामला
  • 1/10

अगर आप OLX या Quikr  के जरिये कोई सामान बेचते हैं या फिर खरीदते हैं, तो फिर कुछ बातों का ध्यान जरूर रखें. वरना आप ठगी के शिकार हो सकते हैं. क्योंकि साइबर ठगों ने OLX को ठगी का अपना नया ठिकाना बना लिया है. अगर आप सतर्क रहकर OLX पर खरीद-बिक्री करेंगे, तो ठगी के शिकार होने से बच जाएंगे. (Photo: Getty Images)

ठगी का तरीका 
  • 2/10

ठगी का तरीका 
इसी साल मार्च में दिल्ली के रहने वाले रूपेश कुमार के साथ OLX पर एक फ्रॉड हुआ और वे 21,000 रुपये गवां बैठे. रूपेश कुमार ने एक वॉशिंग मशीन बेचने के लिए OLX पर विज्ञापन डाला था. इसके तुरंत बाद एक बायर का मैसेज आया कि वो इसे खरीदना चाहता है. खरीदार एक साइबर ठग था. खरीदार ने कहा कि वो पेटीएम के जरिए वॉशिंग मशीन का पेमेंट करेगा. टेस्ट करने के नाम पर उसने रूपेश कुमार को 2 रुपये भेजे, और इधर से भी 2 रुपये भेजने को कहा गया. दलील ये दी कि POS से ट्रांसफर इसी तरह से किया जाता है. (Photo: Getty Images)

भरोसे में लेकर ठगी का खेल
  • 3/10

ठग ने रूपेश कुमार को भरोसे में लेकर कहा कि अब आप पेटीएम से 6,000 रुपये सेंड करें और और वो भी 6,000 सेंड करेगा. इसके पीछे भी दलील ये दी गई कि POS ट्रांसफर ऐसे ही काम करता है. जैसे ही रूपेश कुमार ने 6,000 रुपये भेजे, साइबर ठग अपने मंसूबे में कामयाब हो गए और उसने रूपेश कुमार को गुमराह लगभग 21 हजार रुपये ट्रांसफर करा लिए. दिलचस्प ये है कि फ्रॉड ये कहकर पैसे ट्रांसफर करवाते रहे कि आपके पैसे पेटीएम में आ जाएंगे. (Photo: Getty Images)
 

OLX पर पेमेंट से जुड़े फ्रॉड
  • 4/10

आमतौर पर OLX पर पेमेंट से जुड़े फ्रॉड होते हैं. UPI बेस्ड भी ठगी के मामले सामने आ रहे हैं. अक्सर साइबर ठग OLX पर ऐड डालने वाले सेलर का भरोसा जीतकर ठगी को अंजाम देते हैं. हाल के दिनों में OLX पर सबसे ज्यादा ठगी के मामले QR कोड से जुड़े आए हैं. जैसे ही कोई सेलर OLX पर कोई प्रोडक्ट अपलोड करता है. ये गिरोह सक्रिय हो जाता है. ये प्रोडक्ट को करीब से देखे बगैर खरीदने के लिए तैयार हो जाते हैं और तुरंत ऑनलाइन एडवांस पेमेंट की झांसा देते हैं. (Photo: Getty Images)

QR कोड को स्कैन करने से बचें
  • 5/10

ऑनलाइन पेमेंट के नाम पर भी फ्रॉड को अंजाम दिया जाता है. क्योंकि पेमेंट के नाम पर ठग सेलर को मोबाइल पर क्यूआर कोड या एक लिंक भेजता है और फिर स्कैन करने के लिए कहा जाता है. QR कोड को स्कैन करते ही लोग ठगी के शिकार हो जाते हैं. इस दौरान ये आपको बार-बार फोन करके कोड स्कैन के लिए कहेंगे. (Photo: Getty Images)
 

ठगी से बचने के आसान उपाय
  • 6/10

ठगी से बचने के आसान उपाय
QR code स्कैन से कभी आपके अकाउंट में पैसे नहीं आते हैं, हमेशा स्कैन करने वाले के अकाउंट से डेबिट होते हैं और सामने वाले के अकाउंट में पहुंच जाते हैं. यानी कोई भी आपको पेमेंट के नाम पर QR code या कोई लिंक भेजे तो उसे डाउनलोड या स्कैन बिल्कुल नहीं करें. स्कैन करते ही आपके अकाउंट के पैसे कट जाएंगे. (Photo: Getty Images)
 

क्यूआर कोड के माध्यम से ठगी
  • 7/10

हालांकि QR code स्कैन के दौरान आपको मोबाइल पर PAY का ऑप्शन दिखेगा और कितना अमाउंट है. इसका मतलब साफ है कि आप किसी को PAY यानी भुगतान करने जा रहे हैं और कितनी रकम कर रहे हैं वो भी दिख जाता है. इसलिए हरगिज PAY बटन पर क्लिक न करें. क्योंकि क्यूआर कोड के माध्यम से ठग अमाउंट सेट करके भेजता है, और आप जैसे से स्कैन करेंगे पेमेंट हो जाएगा. (Photo: Getty Images)

फर्जी आर्मी जवान बनकर ठगी
  • 8/10

पिछले कुछ दिनों में फौजी के नाम पर OLX पर ठगी के मामलों में इजाफा हुआ है. आमतौर पर लोगों में यह विश्वास होता है कि आर्मी के लोग कभी झूठ नहीं बोलते. बस उसी का फायदा उठाकर ये सभी फ्रॉड को कमिट करते हैं. ठग अपनी पहचान को पुख्ता करने के लिए डिफेंस, सेंट्रल फोर्स से संबंधित दिखाने के लिए बिना आपके मांगे ही अपनी आईडी आपको भेजेंगे और झांसे में लेकर यह बताएंगे कि वह बॉर्डर कैंटोनमेंट एरिया, फिर सुदूर तैनात हैं और परिवार के लिए रेंट पर मकान भी देख रहे हैं. अपना आईडी प्रूफ व्हाट्सएप भी कर देंगे. जो फेक होता है. (Photo: Getty Images)

फ्रॉड से बचने के लिए क्या करें?
  • 9/10

फ्रॉड से बचने के लिए क्या करें?
-- OLX पर सामान बेचते समय ये ध्यान में रखें कि पैसे कैश में ही लें.
-- अकाउंट में पैसे भेजने को कहा जाए तो आप साफ मना कर दें. क्योंकि हर बार अलग तरह से फ्रॉड किए जाते हैं.
-- अगर ऑलनाइन पेमेंट ही लेना हो तो फिर अपना मोबाइल नंबर दें, और कहें कि इस पर सीधे Paytm या UPI पेमेंट करें. किसी तरह के कोड स्कैन से साफ इनकार कर दें.  
-- बायर से कॉल पर बात करें, मिलने के लिए पब्लिक प्लेस तय करें और इसके बाद ही किसी तरह का लेन-देन करें. 
-- पेमेंट के लिए अगर आपको फोन पर किसी तरह का ओटीपी आए तो उसे किसी के साथ शेयर न करें. 
-- QR code स्कैन से कभी आपके अकाउंट में पैसे नहीं आएंगे, हमेशा स्कैन करने वाले के अकाउंट से डेबिट होते हैं. 
-- अगर कोई खरीदार आपके प्रोडक्ट को करीब से देखे बगैर खरीदने के लिए तैयार है, और एडवांस पेमेंट की बात करता हो तो फिर संभल जाएं. (Photo: Getty Images)
 

ठगी के अन्य तरीके
  • 10/10

OLX के अलावा भी साइबर गैंग के लोग यूपीआई पेमेंट करने के नाम पर, केवाईसी अपग्रेड करने के नाम पर या फिर अलग-अलग बैंक के फर्जी एप और साइट्स बनाकर ठगी करते हैं. ये लोग एप के या बैंक के फर्जी लिंक ग्राहकों को भेजते हैं और फिर ऑनलाइन ठगी करते हैं. अगर आप एक बात याद रखेंगे तो हमेशा ठगी से बच सकते हैं. बैंक कभी किसी को फोन नहीं करता है, यानी बैंक के नाम पर आने वाले फोन फर्जी होते हैं. झारखंड का जामताड़ा एक ऐसा इलाका है, जो देश ही नहीं बल्कि विदेशों में भी साइबर ठगी के लिए जाना जाता है. (Photo: Getty Images)