scorecardresearch
 
ऑटो न्यूज़

अगस्त में जमकर बिकीं हर कैटेगरी की गाड़ियां, जानें किस कंपनी ने मारी बाजी

अगस्त में सेल बढ़िया रही
  • 1/7

कार हो या बस और ट्रक, अगस्त में हर कैटेगरी में गाड़ियों की सेल ताबड़तोड़ रही. इससे भी बढ़िया बात, हर कैटेगरी में सेल बढ़ी भी है और फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशंस (FADA) के मुताबिक गाड़ियों की कुल बिक्री 14.48% बढ़ी है. लेकिन ऑटो डीलर्स को अब कई नई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है... (Photo : Getty)

इस कैटेगरी में इतनी बढ़ी सेल
  • 2/7

अगर बात कैटेगरी के हिसाब से की जाए तो FADA के मुताबिक अगस्त महीने में 2-व्हीलर्स की सेल पिछले साल के मुकाबले 6.66%, 3-व्हीलर्स की 79.70%, पैसेंजर व्हीकल की 38.71% और कमर्शियल व्हीकल्स की सेल 97.94% बढ़ी है. जबकि फार्म इक्विपमेंट यानी ट्रैक्टर्स की सेल में 5.50% का इजाफा हुआ है. जानें किस कैटेगरी में किसने बाज़ी मारी (Photo : Getty)

पैसेंजर व्हीकल में Maruti का जलवा
  • 3/7

पैसेंजर व्हीकल कैटेगरी में Maruti Suzuki सबसे आगे रही, कंपनी ने 1,08,944 यूनिट्स की बिक्री की. जबकि Hyundai ने 43,988, Tata Motors ने 25,577, Mahindra & Mahindra ने 16,457 और Kia Motors ने 13,900 यूनिट्स की बिक्री की.
 

2-व्हीलर्स कैटेगरी में Hero की धूम
  • 4/7

2-व्हीलर्स सेगमेंट में बाजार की लीडी Hero MotoCorp रही. कंपनी की कुल 3,13,074 गाड़ियां बिकीं. जबकि Honda Motorcycle and Scooter की 2,48,108, Bajaj की 1,23,697 और Suzuki Motorcycle की 44,969 गाड़ियां बिकीं.

कमर्शियल व्हीकल में Tata की बाज़ी
  • 5/7

कमर्शियल व्हीकल सेगमेंट में Tata Motors टॉप पर रही. कंपनी के ट्रक और बस की सेल 20,805 इकाई रही. जबकि Mahindra & Mahindra की सेल 13,385, Ashok Leyland की 6,958, Maruti Suzuki की 3,721 और VE Commercial Vehicles की 3,151 गाड़ियां बिकीं.

3-व्हीलर्स सेगमेंट में Bajaj टॉप पर
  • 6/7

वहीं 3-व्हीलर्स सेगमेंट में सबसे ऊपर नाम Bajaj Auto का है.  Mahindra & Mahindra इस कैटेगरी में दूसरे स्थान पर है, जबकि Mahindra की ही Swaraj Division इस मामले में तीसरे स्थान पर है.

ऑटो डीलर्स की नई दिक्कत
  • 7/7

पिछले साल अगस्त में गाड़ियों की सेल ज्यादा नहीं थी, क्योंकि कोरोना की वजह से मांग कम थी. FADA के अध्यक्ष विंकेश गुलाटी का कहना है कि अब मांग पहले से सुधरी है तो कंपनियों की तरफ से ऑटो डीलर्स को सही से सप्लाई नहीं हो रही है. इसकी बड़ी वजह सेमीकंडक्टर्स की वैश्विक कमी है. वहीं अगस्त 2021 में सेल भले बढ़ी है, लेकिन ये अगस्त 2019 यानी कोरोना के पहले वाले लेवल से 14.75% नीचे है. (Photo : Getty)