scorecardresearch
 

नहीं थम रही 'आग', घर के आंगन में चार्ज हो रहे इलेक्ट्रिक स्कूटर से उठने लगी लपटें!

इलेक्ट्रिक स्कूटरों में बार-बार आग की घटनाओं से चिंतित सरकार ने मामले की जांच DRDO से कराई. जांच में बैटरी की क्वालिटी को आग का मुख्य कारण पाया गया. इसके बाद सरकार इसे लेकर नई गाइडलाइंस लाने जा रही है.

X
Pure EV के स्कूटर में लगी आग Pure EV के स्कूटर में लगी आग
स्टोरी हाइलाइट्स
  • Pure EV के स्कूटर में लगी आग
  • रिकॉल कर चुकी है 2000 स्कूटर

इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने की घटनाएं थमने का नाम ही नहीं ले रही हैं. ताजा मामला गुजरात का है. वहीं दूसरी तरफ इलेक्ट्रिक 2-व्हीलर्स इंडस्ट्री को सरकार के बैटरी और वाहनों की क्वालिटी के लिए नई गाइडलाइन्स लाने का इंतजार है.

Pure EV के स्कूटर में लगी आग
गुजरात के पाटन जिले में गुरुवार को Pure EV के EPluto 7G इलेक्ट्रिक स्कूटर में चार्जिंग के दौरान आग लग गई. न्यूज एजेंसी की खबर के मुताबिक इसे लेकर एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. घटना पाटन जिले के सुविधिनाथ सोसायटी की है. हालांकि इसमें किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं आई है.  Pure EV के इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने की ये पांचवी घटना है. इससे पहले पिछले महीने हैदराबाद में भी प्योर ईवी के एक इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने की खबर आई थी.

रिकॉल कर चुकी है 2000 स्कूटर
Pure EV के इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने की कई घटनाओं के बाद कंपनी ने अप्रैल में 2,000 इलेक्ट्रिक स्कूटर को रिकॉल किया था. इतना ही नहीं Ola और Okinawa के इलेक्ट्रिक स्कूटरों में भी आग की घटनाएं सामने आई हैं. इसके चलते इन कंपनियों ने भी अपने स्कूटर रिकॉल किए थे. ओला ने 1400 से ज्यादा जबकि ओकिनावा ने 3200 से ज्यादा इलेक्ट्रिक स्कूटर को रिकॉल किया है.

सरकार लाने वाली है नई गाइडलाइंस
इलेक्ट्रिक स्कूटरों में बार-बार आग की घटनाओं से चिंतित सरकार ने मामले की जांच DRDO से कराई. जांच में बैटरी की क्वालिटी को आग का मुख्य कारण पाया गया. इसके बाद सरकार इसे लेकर नई गाइडलाइंस लाने जा रही है. वहीं इलेक्ट्रिक व्हीकल की बैटरी के लिए मानक भी तय करेगी, जिससे देश में बैटरी स्वैपिंग नीति लाई जा सके.

ये भी पढ़ें: 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें