scorecardresearch
 

रूसी मिसाइलों से भरे ट्रक पर यूक्रेन का हमला, Dnipro की ओर बढ़ा सैन्य काफिला

Russia Ukraine War: यूक्रेन की राजधानी कीव पर रूसी कब्जे की मंशा विफल रही. अब पुतिन की सेना दूसरे शहरों की तरफ बढ़ रही है. करीब 13 किलोमीटर लंबा काफिला इज़्युम (Izyum) शहर की तरफ जा रहा है.

X
रूस-यूक्रेन जंग का आज 47वां दिन है रूस-यूक्रेन जंग का आज 47वां दिन है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रूस-यूक्रेन जंग का आज 47वां दिन है
  • रूसी सेना अब पूर्वी यूक्रेन की तरफ रुख कर चुकी है

यूक्रेन-रूस की जंग (Russia Ukraine War) के 47वें दिन तक व्लादिमीर पुतिन की सेना कीव को फतह नहीं कर पाई है, जिसके चलते अब उसने अपना प्लान चेंज कर लिया है. ताजा जानकारी के मुताबिक, रूसी सेना का बड़ा काफिला अब इज़्युम (Izyum) शहर और नीपर (Dnieper) नदी के आसपास देखा गया है. अमेरिकी एक्सपर्ट का कहना है कि रूस का 12.8 किलोमीटर का लंबा काफिला Izyum शहर की तरफ बढ़ रहा है.

दूसरी तरफ यूक्रेन रूसी हमलों का करारा जवाब दे रहा है. ताजा जानकारी के मुताबिक, बश्तांका में यूक्रेन ने रूसी ट्रक पर मिसाइल अटैक किया है. यह हमला क्रूज मिसाइल से भरे रूसी ट्रक पर किया गया है.

Dnieper की तरफ बढ़ रहा रूस

Nexta tv वेबसाइट के मुताबिक, अमेरिकी एक्सपर्ट्स को अंदेशा है कि रूस Dnieper नदी के आसपास बड़े हमले की प्लानिंग में है. एक्सपर्ट का यह दावा पुख्ता लग रहा है. क्योंकि हाल ही में सेटेलाइट इमेज में एक 12.8 किलोमीटर लंबा रूसी सेना का काफिला देखा गया था. Maxar Technologies की तस्वीरों के साथ दावा किया गया कि पुतिन की सेना का यह काफिला Izyum शहर की तरफ ही बढ़ रहा है.

रूसी सेना को टक्कर दे रहा यूक्रेन

Izyum में अबतक यूक्रेनी सेना रूस को कड़ी टक्कर दे रही है. बीते दिनों यूक्रेनी सेना ने रूस की सेना के खिलाफ पहली बार TOS-1A "Solntsepyok" का इस्तेमाल किया था. यह उनकी काफी पावरफुल तोप मानी जाती है.

Izyum शहर खारकीव के दक्षिण-पूर्व में स्थित है. खारकीव पर हमलों की स्पीड बढ़ाने के लिए भी रूसी सेना Izyum का इस्तेमाल करना चाहती है. यूक्रेन ने तब दावा किया था कि खारकीव पर हवाई हमलों के साथ-साथ रूस Izyum शहर में और फौज को भेज रहा है. इस बीच ही रूस के लंबे काफिले की सैटेलाइट इमेज सामने आई. Izyum शहर के टीवी टॉवरों को रूस ने हवाई हमलों से तबाह कर दिया था, जिसकी तस्वीरें भी सामने आई थीं.

डोनबास को घेर रही रूसी सेना

यूक्रेन की मिलिट्री की बात करें तो इस वक्त उनका कॉन्फिडेंस लेवल हाई है. उनका दावा है कि कीव और पूर्वोत्तर के बाकी शहरों को कब्जाने में रूस फेल हो गया है, जिसके बाद उसने अपना रुख पूर्वी यूक्रेन की तरफ कर लिया है. यह डोनबास का इलाका है, जहां रूस समर्थित अलगाववादी संगठन पिछले 8 सालों से यूक्रेनी सेना से लड़ रहे हैं. इसी क्षेत्र के दो इलाकों (दोनेत्स्क और लुहांस्क) को रूस ने युद्ध शुरू होने से पहले ही अलग देश के रूप में मान्याता दी थी

युद्ध के 46 दिन बीत जाने के बाद भी रूस-यूक्रेन की जंग खत्म होने के आसार नहीं दिख रहे हैं. यूक्रेन का दावा है कि अबतक वह रूस के 20 हजार सैनिकों को मार चुका है. दूसरी तरफ युद्ध से यूक्रेन को भी काफी नुकसान हुआ है. वहां के कई शहरों को रूस ने बर्बाद कर दिया है. अबतक 45 लाख यूक्रेनी देश छोड़कर दूसरे देशों में जा चुके हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें