scorecardresearch
 

25 हजार से ज्यादा विदेशी लड़ाके ISIS, अलकायदा जैसे आतंकी संगठनों से जुड़े

दुनिया के ज्यादातर देश भले ही आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होने को तैयार खड़े हों, पर संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट से बेहद डरावनी तस्वीर उभरती है. 

Symbolic Image Symbolic Image

दुनिया के ज्यादातर देश भले ही आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होने को तैयार खड़े हों, पर संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट से बेहद डरावनी तस्वीर उभरती है. सीरिया में ISIS ने 52 लोगों की हत्या की

संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि दुनियाभर के 25,000 से ज्यादा लड़ाके अलकायदा और इस्लामिक स्टेट (IS) जैसे आतंकी संगठनों में शामिल हुए हैं. 100 अमेरिकी सैनिकों की जान को खतरा, ISIS ने जारी की 'किल लिस्ट'

इस रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2014 से लेकर मार्च 2015 तक दुनियाभर में विदेशी लड़ाकों की तादादा में 71 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. खासकर सीरिया और इराक आतंकियों के बड़े ठिकाने बन गए हैं. इसमें सीरिया और इराक में 22,000, अफगानिस्तान में 6,500, यमन, लीबिया, पाकिस्तान और सोमालिया में सैकड़ों विदेशी आतंकियों के मौजूद होने की बात कही गई है. ISIS के इंडियन रिक्रूटर के मारे जाने की खबर

सुरक्षा मामलों से जुड़े एक्सपर्ट्स ने यह रिपोर्ट तैयार की है, जो सुरक्षा परिषद को सौंपी गई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले एक दशक में विदेशी लड़ाकों की तादाद में बेतहाशा बढ़ोतरी हुई है.

ट्युनिशिया, मोरक्को, फ्रांस और रूस से बड़ी तदाद में विदेशी लड़ाके आते हैं लेकिन मालदीव, फिनलैंड, त्रिनिदाद और टोबैगो से आने वाले लड़ाकों की संख्या में इज़ाफ़ा हुआ है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें