scorecardresearch
 
विश्व

कोरोना की वजह से खत्म हो रही लाखों लोगों की जान लेने वाली ये बीमारी?

Virus
  • 1/7

दुनिया के कई एक्सपर्ट ने चेतावनी दी थी कि कोरोना वायरस और फ्लू, दोनों बीमारी एक साथ बड़े पैमाने पर तबाही मचा सकती है. लेकिन एक अब चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है. वैज्ञानिकों को पता चला है कि फ्लू बीमारी खत्म होती दिख रही है. कुछ एक्सपर्ट की थ्योरी से इस बात के संकेत मिल रहे हैं कि संभव है कि कोरोना की वजह से ही फ्लू के मामले घट रहे हों.

Virus
  • 2/7

विश्व स्वास्थ्य संगठन के सर्विलांस डेटा से पता चला है कि फ्लू के मामले में काफी अधिक कमी आई है. वैश्विक स्तर पर अनुमान लगाया जा रहा है कि फ्लू के मामलों में पिछले साल के मुकाबले 98 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है. 

Virus
  • 3/7

ऑस्ट्रेलिया में इस साल अप्रैल में फ्लू के सिर्फ 14 मामले सामने आए, जबकि पिछले साल यह आंकड़ा 367 का था. यानी 96 फीसदी की कमी हो गई. वहीं, ऑस्ट्रेलिया में जून में जहां फ्लू के मामले पीक पर होते थे, इस साल कोई भी मामला नहीं आया. बता दें कि WHO के आंकड़ों के मुताबिक, इंफ्लूएंजा वायरस यानी फ्लू से हर साल दुनिया में ढाई लाख से 5 लाख तक मौतें होती हैं.

Virus
  • 4/7

लिवरपूल यूनिवर्सिटी में वायरस एक्सपर्ट प्रोफेसर जेम्स स्टीवार्ट कहते हैं कि इम्यून सिस्टम पहले संक्रमण के बाद एक्टिव होते हैं और वायरस को खत्म करते हैं. इसी दौरान अगर कोई दूसरा वायरस शरीर में आता है तो उसे भी इम्यून सिस्टम खत्म कर देता है. इसलिए संभव है कि कोरोना की इम्यूनिटी की वजह फ्लू वायरस टिक नहीं पा रहे होंगे.

Virus
  • 5/7

सेंट जॉर्ज यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन की वायरोलॉजिस्ट एलिसाबेट्टा ग्रॉपेल्ली कहती हैं कि वायरस परजीवी होते हैं. एक बार वायरस व्यक्ति के सेल में घुस जाते हैं तो वे नहीं चाहते कि उस व्यक्ति के शरीर में कोई अन्य वायरस आए. इसलिए शरीर में जो वायरस पहले पहुंचते हैं, वह दूसरे वायरस को खत्म कर देते हैं. 

Virus
  • 6/7

चिली में इस साल अप्रैल से अक्टूबर के बीच फ्लू के सिर्फ 12 केस सामने आए, जबकि पिछले साल इसी दौरान फ्लू के 7 हजार मामले आए थे. वहीं, दक्षिण अफ्रीका में भी फ्लू के मामलों में 99 फीसदी की गिरावट देखने को मिली है.

Virus
  • 7/7

वहीं, ब्रिटेन में मार्च से अब तक फ्लू के 767 मामले आए हैं, जबकि पिछले साल मार्च से अक्टूबर के बीच 7 हजार के करीब फ्लू के केस सामने आए थे. वहीं, कुछ एक्सपर्ट का कहना है कि फ्लू के मामले घटने को लेकर स्पष्ट राय बनाने के लिए अभी और स्टडी किए जाने की जरूरत है.