scorecardresearch
 

हिमाचल: राइफल के साथ फोटो खिंचवाने के चक्कर में चली गोली, 7 साल के मासूम की मौत

पितृ पूजन को आए एक परिवार के 7 साल के बेटे की गोली लगने से मौत हो गई. राइफल के साथ फोटो खिंचवाने के चक्कर में गलती से गोली चली. पुलिस ने इस मामले में दो व्यक्त‍ियों को ह‍िरासत में ल‍िया है.

Representative image Representative image
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पितृ पूजन को आए एक श्रद्धालु परिवार के 7 साल के बेटे की गोली लगने से मौत
  • राइफल के साथ फोटो खिंचवाने के चक्कर में किसी से गलती से चली गोली

हिमाचल प्रदेश के ऊना में पितृ पूजन को आए एक श्रद्धालु परिवार के 7 साल के बेटे की गोली लगने से मौत हो गई. पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को हिरासत में लिया है और वारदात में प्रयोग हुई राइफल को भी अपने कब्जे में ले लिया है. 

पुलिस के मुताबिक, राइफल के साथ फोटो खिंचवाने के चक्कर में किसी से गलती से गोली चली थी. हालांकि अभी तक यह पता नहीं चला है कि गोली किसने चलाई थी लेकिन पुलिस सारे मामले की जांच में जुट गई है.  

हथियारों के साथ फोटो खिंचवाने का शौक एक परिवार को इस कदर भारी पड़ा कि उस परिवार के चिराग की दर्दनाक मौत ही हो गई. मरने वाला महज 7 साल का एक मासूम था.

दरअसल, हुआ यूं कि पंजाब के आनंदपुर साहिब क्षेत्र के गांव में श्रद्धालुओं का एक जत्था हिमाचल प्रदेश के ऊना के अम्ब में पितृ पूजन के लिए गया हुआ था जहां पितृ पूजन से पूर्व इस जत्थे के लोग पूजा स्थल की साफ सफाई में जुट गए.

मासूम के सीने में गोली लगने का निशान

कुछ ही देर बाद गोली चलने की आवाज से सभी सकते में आ गए. आवाज सुनकर जब सभी उस दिशा में भागे तो उन्हें 7 साल के इस मासूम के सीने में गोली लगने का निशान दिखाई दिया जिसके बाद उसे पास के सरकारी अस्पताल में ले जाया गया, लेकिन डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया. वहां पहुंचने से पहले ही उस मासूम की मौत हो गई थी. 

बहरहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर दो लोगों को हिरासत में लिया है जिनसे पूछताछ की जा रही है. पुलिस ने इस वारदात में प्रयोग हुई राइफल को भी अपने कब्जे में ले लिया है. पुलिस की आरंभिक जांच के मुताबिक, पितृ पूजन स्थान के पास के एक घर के बाथरूम में एक राइफल रखी हुई थी और इसी राइफल के साथ श्रद्धालुओं के जत्थे के कुछ लोग फोटो खिंचवाने में लग गए. यहां तक कि मरने वाले 7 साल के मासूम और उसके पिता ने भी उस राइफल के साथ फोटो खिंचवाई थी. फोटो खिंचवाने के बाद जत्थे के बड़े लोग तो साफ सफाई में जुट गए लेकिन बच्चे और नौजवान शायद राइफल के आसपास ही रह गए. 

युवक से गलती से राइफल का घोड़ा दब गया

पुलिस के मुताबिक, फोटो खिंचवाते समय ही लगभग 20 साल के एक युवक से गलती से राइफल का घोड़ा दब गया और गोली जाकर सीधे 7 साल के इस मासूम के सीने में जा लगी, जिसके कारण मासूम की दर्दनाक मौत हो गई.

एएसपी प्रवीण दीवान ने बताया क‍ि हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि गोली वास्तव में किससे चली थी ? लेकिन पुलिस हिरासत में लिए गए दो लोगों से पूछताछ में जुटी हुई है और उम्मीद है कि जल्द ही पुलिस गिरफ्त में दोषी व्यक्ति होगा. 

(इनपुट-ऊना से संदीप खड़वाल की र‍िपोर्ट) 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें